Thursday, May 19, 2022
Homeहिन्दीजानकारीCDS (Combined Defence Services) जिसके जरिए आप भारत के किसी भी सेना...

CDS (Combined Defence Services) जिसके जरिए आप भारत के किसी भी सेना को Join कर सकते हैं।

हमने कई ऐसे उम्मीदवारों को देखा है जो कि भारत के सुरक्षा सेवा डिफेन्स में शामिल होने के लिए बहुत परिश्रम करते हैं। वे 12 वीं के बाद से ही डिफेन्स की तैयारी में लग जाते हैं। कुछ तो जल्दी ही किसी न किसी सेना में नौकरी प्राप्त कर लेते हैं लेकिन कुछ अपनी आगे की पढ़ाई करने के बाद सेना में जाना चाहते हैं और ऐसे उम्मीदवार AFCAT(Air Force Common Admission Test), CDS (Combined Defence Services) जैसे एग्जाम देते हैं। तो चलिए अब जानते हैं कि CDS क्या है, और यह परीक्षा कैसे उम्मीदवार दे सकते है इसके अलावा इससे जुड़ी अन्य तमाम जानकारियां भी हम आपको इस आर्टिकल में बताने वाले हैं।

CDS Full Forme 

सबसे पहले जानते हैं कि CDS का फुल फॉर्म क्या है। सी. डी. एस का फुल फॉर्म है Combined Defence Services. यानि संयुक्त रक्षा सेवाएँ और इसकी परीक्षा के द्वारा उम्मीदवार थल सेना(Indian Army), वायु सेना(Air Force) और जल सेना(Indian Navy) में से किसी भी एक भाग में नौकरी प्राप्त कर सकता है। जल सेना, वायु सेना व थल सेना भारतीय सुरक्षा बल के अभिन्न अंग हैं। CDS की परीक्षा के माध्यम से आप चाहे तो भारतीय सेना में अधिकारी का पद प्राप्त कर सकते हैं। यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन(Uniun Public Service Commission) एक साल में दो बार CDS के एग्जाम का आयोजन करता है। CDS में आपको सबसे पहले लिखित परीक्षा पास करनी होती है और फिर उसके बाद आपको इंटरव्यू देना होता है। 

दरअसल CDS की परीक्षा ऐसे उम्मीदवारों के लिए बहुत ही अहम होती है जो उम्मीदवार भारतीय सेना में अपना करिअर बनाना चाहते हैं। संयुक्त रक्षा सेवा यानि  CDS के द्वारा भारतीय सेनाओं में अधिकारीयों की भर्ती की जाती है। 

CDS (Combined Defence Services) जिसके जरिए आप भारत के किसी भी सेना को Join कर सकते हैं।

भारतीय थल सेना, वायु सेना और जल सेना में भर्ती के लिए UPSC के द्वारा एक कंबाइंड डिफेन्स सर्विस परीक्षा का जो आयोजन किया जाता है। यूपीएससी का काम सिर्फ परीक्षा का आयोजन करना मात्र होता है। UPSC कई एग्जाम कंडक्ट करवाता है, जिसमे  UPSC (CDS) भी है जिसमे शामिल होने के लिए उम्मीदवारों के पास स्नातक(BA) होना अनिवार्य होता है।

UPSC (CDS) की भर्ती के पहले लिखित परीक्षा और इंटरव्यू आयोजित कराता है। जिसमें सफल होने के बाद उम्मीदवारों को ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है 

UPSC (CDS) के Training Center —

इंडियन मिलिट्री अकादमी (देहरादून) 

नेवल अकादमी (गोवा) 

एयरफोर्स अकादमी (हैदराबाद) 

ऑफिसर ट्रेनिंग (चेन्नई) 

साधारण भाषा में कहा जाए तो सीडीएस की परीक्षा तीनों भारतीय सेनाओं में से एक में भर्ती होने की परीक्षा है। हालाँकि तीनों भारतीय सेना में भर्ती के लिए अलग-अलग पात्रता मापदंड होती है और जो उम्मीदवार इस सभी CDS पात्रता मापदंड को पूरा करता है वही उम्मीदवार CDS परीक्षा के लिए योग्य माना जाता है। तो आइए अब CDS पात्रता मापदंड के बारे में जानते हैं।

CDS की शैक्षणिक योग्यता

भारतीय सैन्य अकादमी (Indian Military Academy)

ऑफिसर अकादमी के लिए आपके पास किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या समकक्ष से स्नातक डिग्री होनी पड़ती चाहिए।

भारतीय नौसेना अकादमी ( Indian Navy Academy)

इस अकादमी के लिए आपको Chemistry, Maths और Physics के साथ BSC या फिर इंजिनीयरिंग की डिग्री होनी पड़ती चाहिए।

वायु सेना अकादमी (Air Force Academy)

इस अकादमी के लिए आपको किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय की डिग्री के साथ 10+2 में Maths और Physics विषय का होना जरुरी होता है या फिर इंजिनीयरिंग की डिग्री होनी पड़ती है।

CDS की आयु सीमा की बात करें तो 

  • भारतीय सैन्य अकादमी (IMA)के लिए उम्मीदवार की आयु 19 से 24 साल के बीच होना चाहिए।
  • भारतीय नौसेना अकादमी (INA) के लिए उम्मीदवार की आयु 19 से 25 साल के बीच होना चाहिए।
  • वायु सेना अकादमी (AFA) के लिए उम्मीदवार की आयु 19 से 24 साल के बीच होना चाहिए।
  • अधिकारी परिक्षण अकादमी (OTA) के लिए उम्मीदवार की आयु 19 से 25 साल के बीच होना चाहिए।

CDS Exam 

संयुक्त रक्षा सेवा परीक्षा दो चरणों में होती है- पहला चरण लिखित परीक्षा होती है और दूसरा चरण इंर्टव्यू होता है। यह परीक्षा UPSC के अंर्तगत आती है जो भारत के प्रमुख्य तीनों सेनायों के अंर्तगत होती है। अगर उम्मीदवार लिखित परीक्षा में सफल हो पाता है तो उसे इंर्टव्यू के लिए बुलाया जाता है। उसके बाद उम्मीदवार को ट्रेनिंग के लिए अलग अलग जगह भेज दिया जाता है। अब हम आपको CDS के परीक्षा पेर्टन के बारे में जानेंगे।

एग्जाम पैटर्न में आपको 2-2 घंटे करके कुल 6 घंटे का एग्जाम होता है। जिसमें आपको सामान्य ज्ञान, गणित और इंग्लिश के प्रश्न पूछे जाते हैं। इसके अलावा अगर आप OTA का एग्जाम देने वाले हैं तो आपको सिर्फ इंग्लिश और GK यानि सामान्य ज्ञान के प्रश्न पूछे जाते हैं। जो कि 2-2 घंटे के कुल 4 घंटे का होता है।

तो दोस्तों अगर आप भी भारत के इन तीनों सेनाओं में जाने का सपना रखते हैं। तो आपको इस हिसाब से अपनी पढ़ाई की प्लानिंग करनी चाहिए। पढ़ाई पूरी करने के बाद हर साल UPSC की तरफ से CDS का जो जो फॉर्म निकलता है, उसमें अप्लाई करके एग्जाम की तैयारी करें। इस तरह आप भारतीय सेना में जाने के सपने को पूरा कर सकते हैं और भारत के तीनों सेनाओ में से जिस में भी आप जाना चाहते हैं उसमें जा सकते हैं।

Jhuma Ray
Jhuma Ray
नमस्कार! मेरा नाम Jhuma Ray है। Writting मेरी Hobby या शौक नही, बल्कि मेरा जुनून है । नए नए विषयों पर Research करना और बेहतर से बेहतर जानकारियां निकालकर, उन्हों शब्दों से सजाना मुझे पसंद है। कृपया, आप लोग मेरे Articles को पढ़े और कोई भी सवाल या सुझाव हो तो निसंकोच मुझसे संपर्क करें। मैं अपने Readers के साथ एक खास रिश्ता बनाना चाहती हूँ। आशा है, आप लोग इसमें मेरा पूरा साथ देंगे।
RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: