Homeहिन्दीजानकारीGoogle ऑनलाइन जानकारी प्राप्त करने का सबसे बड़ा Searching Platform: और आम...

Google ऑनलाइन जानकारी प्राप्त करने का सबसे बड़ा Searching Platform: और आम कामकाज को आसान बनाने के लिए गूगल के द्वारा बनाए गए प्रोडक्ट के बारे में।

गूगल के बारे में कौन नहीं जानता आज के दुनिया में बच्चा-बच्चा गूगल से पूरी तरह परिचित है। क्योंकि ऑनलाइन दुनिया में जिस तरह हमारी जिंदगी बहुत ज्यादा आसान हो गई है इसमें गूगल सबसे पहले आता है। तो चलिए जानते हैं गूगल आखिर क्या है, गूगल को बनाने वाले कौन है और गूगल के अलग-अलग कौन से सर्विस हम इस्तेमाल करते हैं या कर सकते हैं ? आज किस तरह यह हमारी जिंदगी का एक अहम हिस्सा बन गया है। गूगल से जुड़ी सारी जानकारी आज हम आपको इस आर्टिकल के जरिए देंगे।

आज से कुछ सालों पहले इंटरनेट का इस्तेमाल करना बहुत मुश्किल काम लगता था। क्योंकि तब गूगल उपलब्ध नहीं था लेकिन अगर आज इंटरनेट की बात करें तो ऑनलाइन दुनिया में गूगल सबसे ज्यादा सर्च होने वाला सबसे बड़ा पॉपुलर प्लेटफार्म है। साल 1998 में गूगल को एक प्राइवेट कंपनी के तौर पर शुरू किया गया था। उसके बाद कई सालों में ही गूगल में इंटरनेट की ऑनलाइन दुनिया में पूरी तरह राज कर लिया। इस कंपनी को स्टार्ट करने वाले दोनों व्यक्ति अमेरिकी है। दोनों फाउंडर का नाम है लैरी पेज (Laary Page) और सर्गे ब्रिन (Sergey Brin) 

इन दोनों की मुलाकात सन 1995 में स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में हुई थी। लैरी के माता और पिता दोनों ही MICHIGAN STATE यूनिवर्सिटी में कंप्यूटर साइंस पढ़ाते थे। इसीलिए लैरी के घर पर हमेशा कंप्यूटर से रिलेटेड जानकारी के चीज़े जैसे कि मैगजीन, गैजेट्स इत्यादि मौजूद रहते थे। बचपन से ऐसे ही माहौल में रहते रहते लैरी का कंप्यूटर में ही ज्यादा इंटरेस्ट बनने लगा।

सर्गे ब्रिन के पिता मैथमेटिक्स के प्रोफेसर थे और माता नासा(NASA) की रिसर्चर थी। गूगल की शुरुआत इन दोनों ने तब की जब इन दोनों की मुलाकात स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में हुई जब वह दोनों सर्च इंजिन बना रहे थे। तब इसका नाम BackRub रखा गया था और आखिरी में इसका नाम गूगल google रखा गया और वह भी गूगोल(googol) शब्द के गलत स्पेलिंग से, दोनों एक ऐसा सर्च इंजन बना रहे थे जो ज्यादा मात्रा में लोगों को जानकारी दे सके। वे दोनों इसका नाम गूगल(googol) रखना चाहते थे googol ऐसा नंबर है जिसके पहले 100 ज़ीरो होते हैं। सबसे पहले गूगल स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में एक वेबसाइट के अंतर्गत  google.stanford.edu के नाम से चलती थी। लेकिन साल 1997 में 15 सितंबर को गूगल ने अपना डोमेन नाम रजिस्टर करवाया।

Google ऑनलाइन जानकारी प्राप्त करने का सबसे बड़ा Searching Platform : और आम कामकाज को आसान बनाने के लिए गूगल के द्वारा बनाए गए प्रोडक्ट के बारे में।

गिरीश कंपनी की शुरुआत 4 सितंबर 1998 को लैरी और सर्गे  के दोस्त Susan Wojcicki के गैरेज में हुई थी। Susan Wojcicki इस कंपनी की पहली Employ थी और अब यूट्यूब की CEO है। अभी गूगल का हेड क्वार्टर California, Mountain view में है जिसे लोग अब Googleplex के नाम से भी जानते हैं। आपको शायद पता नहीं है कि उस वक्त मार्केट में Yahoo भी मौजूद था और लोग Yahoo से ही अपनी जानकारी ढूंढते थे। एक बार लैरी पेज और सर्गे ब्रिन अपने सर्च इंजिन को 1 मिलियन डॉलर में बेचने के लिए तैयार थे। क्योंकि उस वक्त उन्हें लग रहा था कि उन्हें बिजनेस ना करके अपनी पढ़ाई पर ध्यान देना चाहिए। लेकिन तब Yahoo ने इस ऑफर को ठुकरा दिया इसके बाद साल 2002 में फिर से मौका मिला था गूगल को 5 बिलियन डॉलर में खरीदने का। लेकिन इस बार भी Yahoo 3 बिलियन डॉलर से ज्यादा देने को तैयार नहीं थी। जो की Yahoo की सबसे बड़ी गलती साबित हुई क्योंकी आज उसी गूगल की संपत्ति 800 बिलियन डॉलर से भी बहुत ज्यादा है और सबसे ज्यादा उपयोग होने वाला सर्च इंजन है। गूगल सर्च इंजन के साथ साथ एडवर्टाइजमेंट का भी प्लेटफार्म है जो इसके आमदनी का मुख्य साधन है।

लैरी पेज और सर्गे ब्रिन वर्तमान में दोनों अमेरिका के सबसे अमीर व्यक्तियों में गिने जाते हैं। लेकिन आपको शायद पता नहीं होगा कि इन दोनों में से कोई भी गूगल का मालिक नहीं है। आपको बता दें कि साल 2015 में गूगल ने अपनी एक पैरंट कंपनी Alphabet Inc बनाई जिसमें अपने सारे प्रोजेक्ट्स को अंडर कर दिए। अब गूगल से जुड़े सारे फैसले Alphabet के स्ट्रक्चर के हिसाब से किए जाते हैं। आपको बता दें कि गूगल का कोई मालिक नहीं है बल्कि कई सारे शेयर होल्डर है। गूगल में शेयर होल्डिंग को समझने के लिए गूगल ने Alphabet Inc को बनाया है। 

गूगल में अब शेयर के दो क्लास है A और C  
 

क्लास A के शेयरहोल्डर्स को वोटिंग का अधिकार है लेकिन क्लास C के शेयर होल्डर्स को नहीं। B क्लास में भी कुछ लोगो को रखा गया है इन लोगों को 10-10 वोट है और ये मार्केट में ट्रेड नहीं हो सकते। तो आइए जानते हैं कि गूगल में किसके कितने शेयर है।

लैरी पेज

सबसे ज्यादा शेयर की बात करें तो लैरी पेज के पास सबसे ज्यादा शेयर है। क्योंकि वह अल्फाबेट के CEO हैं और उनके पास Alphabet के 20 मिलियन क्लास C शेयर्स और 19.9 मिलियन क्लास A शेयर्स है। ऑल 2018 तक 50.6 बिलियन डॉलर की संपत्ति के साथ लैरी पेज अमेरिका के सबसे अमीर व्यक्तियों में से एक थे।

सर्गे ब्रिन

सर्गे ब्रिन अल्फाबेट के प्रेसिडेंट है। इनके पास 19.3 मिलियन क्लास C और 18,400 क्लास A शेयर है और इनकी कुल संपत्ति 49.9 billion-dollar है।

एरिक श्मिट

Alphabet के एग्जीक्यूटिव चेयरमैन रहने वाले श्मिट 10 साल तक गूगल के CEO रहे थे। वे साल 2011 में अल्फाबेट के एग्जीक्यूटिव चेयरमैन बने थे लेकिन साल 2017 में उन्होंने यह पद भी छोड़ दिया। श्मिट के शेयर की बात करें तो श्मिट के पास डायरेक्टली 38,166 क्लास A शेयर, 1,287,765 क्लास C कैपिटल शेयर, 10,983 क्लास C गूगल शेयर और 10,983 क्लास A गूगल शेयर उपलब्ध है। फैमिली ट्रस्ट के जरिए उनके पास 2.4 मिलियन क्लास C कैपिटल शेयर, 42,806 क्लास C कैपिटल शेयर और 74,361 क्लास A शेयर है। श्मिट की कुल संपत्ति 13.7 बिलियन डॉलर है।

सुंदर पिचाई

सुंदर पिचाई गूगल के CEO हैं इनके पास 857 क्लास A शेयर, 8,844 क्लास A गूगल शेयर, 117,479 क्लास कैपिटल शेयर और 85,415 क्लास C  गूगल शेयर है।  उधर, जॉन के पास 3,485 क्लास A शेयर और 5,027 क्लास C कैपिटल शेयर है। उनके पास 909,459 क्लास C कैपिटल शेयर और 118,653 क्लास A शेयर ट्रस्ट के जरिए भी आते हैं।

पूरे विश्व में गूगल अपने फैले हुए डाटा केंद्रों से 10 लाख से भी ज्यादा सर्वर चलाता है। और 10 अरब से भी ज्यादा खोज अनुरोध और उपभोक्ता संबंधित जानकारी संसाधित करता है। गूगल की सन्युक्ति के बाद ही इसका विकास बहुत तेजी से हुआ है। जिस कारण कंपनी की मूलभूत सेवा वेब सर्च इंजन के अलावा गूगल ने कई सारे उत्पादों का उत्पादन, अधिग्रहण और भागीदारी की है। कंपनी ने ऑनलाइन उत्पादक सॉफ्टवेयर जैसे कि जीमेल, ईमेल सेवा और सामाजिक नेटवर्क साधन जैसे की गूगल ब्राउज़र प्रदान की है। गूगल डेस्कटॉप कंप्यूटर के उत्पादक सॉफ्टवेयर का भी उत्पादन करती है जैसे वेब ब्राउजर, गूगल क्रोम, फोटो व्यवस्थापन इत्यादि साथ ही एंड्राइड फोन में डाले जाने वाले ऑपरेटिंग सिस्टम एंड्रॉयड और गूगल क्रोम ओएस जारी किए जो काफी ज्यादा विकास के अंतर्गत है।  

अब जानते हैं गूगल के प्रोडक्ट्स के बारे में

Google ऑनलाइन जानकारी प्राप्त करने का सबसे बड़ा Searching Platform : और आम कामकाज को आसान बनाने के लिए गूगल के द्वारा बनाए गए प्रोडक्ट के बारे में।
  • Android – एंड्राइड गूगल का प्रोडक्ट है जो कि स्मार्टफोन में बहुत ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला ऑपरेटिंग सिस्टम है।
  • Blogger – ब्लॉगर गूगल का प्रोडक्ट है जो कि फ्री में पर्सनल ब्लॉग बनाने के लिए जरूरी है।
  • Chromecast – इसके इस्तेमाल से आप अपनी नॉर्मल TV को स्मार्ट बना सकते है।
  • Chrome OS – कौन बोला बीएफ जा गूगल द्वारा डेवलप किया गया ऑपरेटिव लैपटॉप और पोर्टेबल कंप्यूटर के का एक ऑपरेटिंग सिस्टम 
  • Gmail – 1 GB स्टोरेज के साथ फ्री ऑनलाइन ईमेल सर्विस और बेस्ट स्पर्म प्रोडक्शन के साथ उपलब्ध होता है।
  • Google AdSense – गूगल ऐडसेंस गूगल की एक ऐसी चीज है जो की वेबसाइट पर Advertisements दिखाने के लिए भुगतान करती है।
  • Google AdWords – गूगल एडवर्ड गूगल कि वह सर्विस है जो गूगल ऐडसेंस का इस्तेमाल करते हुए गूगल सर्च इंजिन और अन्य वेबसाइट पर एडवर्टाइज देने के लिए यूजर को भुगतान करने में हेल्प करती है।
  • Google Alerts – जब कभी वेब searches, news searches इत्यादि में ईमेल एड्रेस पर text मैसेज भेजना हो तो गूगल के इस गूगल अलर्ट का उपयोग किया जाता है।
  • Google Allo – गूगल एलो एंड्रॉयड और IOS के लिए विकसित किया गया एक मोबाइल इंस्टेंट मैसेजिंग एप है। जो कि मैसेजेस, इमेजेस, फाइल और वीडियोस को एक्सचेंज करने के लिए उपयोग किया जाता है।
  • Google Analytics – गूगल एनाल्लैटिक किसी व्यक्ति को उसकी वेबसाइट पर visitors की रिपोर्ट मॉनिटर करने और बनाने की परमिशन देता है।
  • Google App Engine – गूगल सर्विस गूगल के रिसर्च का उपयोग करने वाले माफिया वेब सर्विसेज बनाने का एबिलिटी देती है।
  • Google Books – गूगल बुक्स भी गूगल की एक शानदार सर्विस है। जिसमें हजारों बुक्स शामिल होते हैं और जिनको खोजा जा सकता है।
  • Google Calendar – गूगल कैलेंडर अपने schedule को ऑर्गेनाइज करने, अपने दोस्तों के साथ इवेंट शेयर करने और Synchronize करने का अच्छा तरीका है।
  • Google Chrome – गूगल क्रोम गूगल के सबसे पॉपुलर डेस्कटॉप इंटरनेट ब्राउजर है।
  • Google Custom Search Engine(CSE) – यह गूगल की एक सर्विस है जो आपको एक कस्टम गूगल सर्च इंजन बनाने की सुविधा देती है।
  • Google Docs – यह एक फ्री सोल्युशन है जो आपको माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस डोकोमेंट को ओपन करने के साथ साथ इंटरनेट एक्सेस करके दूसरे लोगो के साथ शेयर करने की सुविधा देती है।
  • Google Drive – गूगल ड्राइव गूगल की एक क्लाउड स्टोरेज सर्विस है। जो users को गूगल क्लाउड में अपने डाक्यूमेंट्स और फाइल्स को देखने, edit करने और स्टोर करने की सुविधा देती है।
  • Google Blog – गूगल ब्लॉग गूगल द्वारा मेंटेन किया जाने वाला एक ब्लॉग है जो कि कंपनी के बारे में गहरी जानकारी देने में सहायता करता है।
  • Google Developer – सभी गूगल डेवलपर डॉक्यूमेंटेशन, रिसोर्सेस, इवेंट्स, और प्रोडक्ट्स को पाने के लिए एक जगह की तरह काम करता है।
  • Google Earth – गूगल अर्थ गूगल का सॉफ्टवेयर प्रोग्राम है। जो कि लोगों को लगभग हर जगह देखने, दिशा जानने, करीबी दुकानों और अपने ढूंढने वाले जगहों को खोजने और भी कई तरह के काम करने के लिए उपयोग किया जाता है।
  • Google Fiber – गूगल फाइबर यूनाइटेड स्टेट्स में कुछ जगहों पर एक लिमिटेड सर्विस available है। जो फाइबर कनेक्शन से इंटरनेट प्रदान करती है।
  • Google Fonts – हजारों Fonts का कनेक्शन है। जो आपके वेब पेज पर यूज किया जा सकता है।
  • Google Groups – गूगल ग्रुप्स लाखों यूजर्स और पोस्टिंग्स के साथ गूगल के बुलिटिन बोर्ड का काम करता है।
  • Google Images – गूगल सर्च जो आपको टेक्स्ट के बजाय इमेजेस सर्च करने की सुविधा प्रदान करती है।
  • Google Mail – गूगल मेल को जीमेल के रूप में अच्छी तरह से जाना जाता है यह सबसे पॉपुलर ईमेल होस्ट में से एक माना जाता है।
  • Google Play Music – गूगल प्ले म्यूजिक एक ऐसी सर्विस है जो users को म्यूजिक चलाने, म्यूजिक डाउनलोड करने और पर्सनल लाइब्रेरी में अपलोड करने के साथ ही रेडियो स्टेशंस बनाने और सुनने की अनुमति देता है। यह मल्टीपल डिवाइस के लिए उपयोगी है इसके अलावा भी गूगल प्ले म्यूजिक एक मासिक शुल्क पर अनलिमिटेड सॉन्ग सुनने की भी सुविधा प्रदान करती है।
  • Google Shopping – गूगल शॉपिंग को पहले Froogle के नाम से जाना जाता था। गूगल शॉपिंग अपने users को प्रोडक्ट के प्राइस, लोकेशन, टाइप इत्यादि के आधार पर सर्च करने के लिए एक सर्च सर्विस है।
  • Google Sites – गूगल साइट एक ऐसी सर्विस है जो यूज़र को वेबसाइट बनाने और शेयर करने की सुविधा देती है।
  • Google Scholar – यह गूगल की एक ऐसी सर्विस है जो यूज़र को स्कॉलरली लिटरेचर के लिए सर्च करने की सुविधा देती है।
  • Google Street View – यह भी एक ग्रेट सर सर्विस है, जो कि पूरी दुनिया में किसी भी सड़कों को देखने की सुविधा देती है।
  • Google Patents – गूगल की यह सर्विस यूजर को 7 मिलियन से भी अधिक Patents सर्च करने की सुविधा देती है।
  • Google Photos – गूगल फोटोस और वीडियोस के लिए ऑनलाइन क्लाउड स्टोरेज है। जो यूजर को अपलोड करने, फोटो वीडियो को ऑर्गेनाइज करने और दूसरों के साथ शेयर करने की भी इजाजत देती है।
  • Google SMS – गूगल की यह प्रोडेक्ट ड्राइविंग डायरेक्शन, मूवी शोटाइम्स, लोकल बिजनेस लिस्टिंग के बारे में जल्दी जवाब पाने के लिए यूजर को उनके मोबाइल में टेक्स्ट मैसेज भेज देती है।
  • Google Toolbar – गूगल टूलबार माइक्रोसॉफ्ट विंडोज, इंटरनेट एक्सप्लोरर और Firefox users के लिए है। यह सॉफ्टवेयर ऐड ऑन, इन ब्राउज़र्स का उपयोग करके गूगल सर्च और दूसरे गूगल फीचर तक पहुंच बनाने में सक्षम होता है।
  • Google Translator – एक विदेशी लैंग्वेज के वेब पेज या टेक्स्ट को अपनी भाषा में ट्रांसलेट करने के लिए गूगल ट्रांसलेटर उपयोग किया जाता है।
  • Google Trends – गूगल ट्रेंड्स गूगल की वह सर्विस है जो कि 100 most active search queries की लिस्ट और गूगल पर लोग जो खोज रहे हैं, इसका जवाब देती है।
  • Google Maps – गूगल मैप्स भी गूगल की एक शानदार फीचर है, जो कि users को एक जगह से दूसरी जगह के डायरेक्शन ढूंढने में मदद करती है। और लोकल बिजनेसेस सर्च करने के साथ ही और भी बहुत सी चीज़े करने की सुविधा देती है।
  • Google Moon – गूगल ने पहली बार मून पर उतरने के सेलिब्रेशन में इस पेज का निर्माण किया था। जिसमें हमारे Moon का एक मैप दिया हुआ रहता है।
  • Google News – गूगल न्यूज़ गूगल पर पूछे जाने वाले न्यूज़ साइट के रिजल्ट का उपयोग करके Automatically generated news sites बताता है।
  • Google Ngram Viewer – यह एक ग्रेड टूल है। जो आपके शब्दों का यानी कि आप जो बोलते हैं उसकी Frequency के अनुसार बहुत सारे बुक्स और दूसरे printed material सर्च करने में मदद करता है।
  • Google Now – गूगल now खासतौर से मोबाइल यूजर्स द्वारा उपयोग किया जाता है। जो आपको Searching और habits के आधार पर मोस्ट relevant इनफॉरमेशन प्रदान करती है।
  • Google Play – गूगल प्ले एक ऐसी सर्विस है जो यूजर को एंड्रॉयड डिवाइसेस के लिए Apps, books, movies और music सर्च करने और डाउनलोड करने की सुविधा प्रदान करती है।
  • Google URL Shortener – गूगल URL long URLs को Short  करने की Service है।  
  • Google Video – गूगल द्वारा होस्ट किए गए Online videos और TV shows के transcript text खोजे जाते हैं।
  • Google Voice – गूगल वॉइस से अपनी आवाज का उपयोग करके फोन में गूगल पर सर्च किया जाता हैं।
  • Google wallet – गूगल वॉलेट गूगल द्वारा developed किया गया एक पेमेंट सर्विस है, जो कि लोगों तक पैसा भेजने और लोगों से पैसे रिसीव करने की सुविधा प्रदान करती हैं।
  • Google WebMaster tools – गूगल वेबमास्टर टूल गूगल कि एक बेहतरीन सर्विस है। जो वेब masters को यह देखने, maintain रखने और कंट्रोल करने के लिए सक्षम बनाता है कि गूगल उनके वेब पेज को कैसे इंडेक्स करता है।
  • ORG – गूगल की एक परोपकारी Arm है।  
  • My Activity – यह service आपकी हिस्ट्री को ट्रैक करती है जब आप गूगल की Services हां उपयोग करते हैं।
  • You Tube – You Tube Video service यूजर को स्वतंत्र रूप से वीडियो अपलोड करने की सुविधा देती है और अन्य Videos देखने की भी सुविधा देती है।
  • Google Chrome – यह सबसे फास्ट चलने वाला और यूज होने वाला ब्राउज़र हैं, जो काफ़ी सिंपल है। और इसी पर बहुत सारे यूज़र्स अपनी जानकारी खोजते हैं।
  • Google Search –  गूगल सर्च से ही गूगल का जन्म हुआ इससे विश्वभर में मौजूद किसी भी इंफॉर्मेशन को सर्च कर सकते हैं।
  • Google Play Store – गूगल प्ले स्टोर से आप कोई भी एंड्राइड ऐप इंस्टॉल कर सकते हैं।
  • Google Due – अगर आपको किसी से वीडियो कॉलिंग पर बात करनी हो तो आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं यह बहुत ही सिंपल वीडियो कॉलिंग ऐप है। इससे आप विदेशों में रहकर भी अपने लोगों से वीडियो कॉल पर बहुत आसानी से बात कर सकते हैं।
  • Google Plus – यह गूगल का एक बहुत अच्छा प्रोडक्ट है इससे आप अपने विचारों को शेयर कर सकते हैं और दूसरों के विचारों को पढ़ सकते हैं। अगर आपका गूगल में अकाउंट है तो आप आसानी से ही गूगल प्लस अकाउंट बना सकते हैं और अपने पुराने दोस्तों को ढूंढ सकते हैं और उनसे बात कर सकते हैं।
  • Google Steets – गूगल शीट एक्सेल के तरह काम करने वाला एक ऐप है। इसे गूगल ने बनाया है ताकि लोग ऑनलाइन एक्सेल की तरह काम कर सके।
  • Google Slides – ऑनलाइन पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन बनाने के लिए इसका उपयोग किया जाता है।

गूगल तो हर कोई जरूर से जरूर इस्तेमाल करता है आप भी जरूर गूगल का इस्तेमाल करते ही होंगे। क्योंकि आज गूगल हमारे जीवन का एक बहुत अहम हिस्सा बन गया है जिसे छोड़कर हमारी ज़िन्दगी अधूरी है। हमने आज के इस पोस्ट में गूगल के फाउंडर और गूगल के अलग-अलग प्रोडक्ट के बारे में बताया है। हमें उम्मीद है की आपको गूगल से जुड़ी यह जानकारी पसंद आई होगी।

Jhuma Ray
नमस्कार! मेरा नाम Jhuma Ray है। Writting मेरी Hobby या शौक नही, बल्कि मेरा जुनून है । नए नए विषयों पर Research करना और बेहतर से बेहतर जानकारियां निकालकर, उन्हों शब्दों से सजाना मुझे पसंद है। कृपया, आप लोग मेरे Articles को पढ़े और कोई भी सवाल या सुझाव हो तो निसंकोच मुझसे संपर्क करें। मैं अपने Readers के साथ एक खास रिश्ता बनाना चाहती हूँ। आशा है, आप लोग इसमें मेरा पूरा साथ देंगे।

Leave a Reply Cancel reply

error: Content is protected !!