गांधी जयंती 2020 : बॉलीवुड के साथ-साथ हॉलीवुड में भी दिख चुका है बापू के जीवन का असर, गांधी जी पर बनी इस मूवी को मिल चुका है ऑस्कर अवॉर्ड।

5
गांधी जयंती 2020 : बॉलीवुड के साथ-साथ हॉलीवुड में भी दिख चुका है बापू के जीवन का असर, गांधी जी पर बनी इस मूवी को मिल चुका है ऑस्कर अवॉर्ड।
गांधी जयंती 2020 : बॉलीवुड के साथ-साथ हॉलीवुड में भी दिख चुका है बापू के जीवन का असर, गांधी जी पर बनी इस मूवी को मिल चुका है ऑस्कर अवॉर्ड।

Gandhi Jayanti 2020: बॉलीवुड के साथ-साथ हॉलीवुड में भी दिख चुका है बापू के जीवन का असर, गांधी जी पर बनी इस मूवी को मिल चुका है ऑस्कर अवॉर्ड।


आज फ़ादर ऑफ़ नेशन (राष्ट्रपिता) गांधी जी की 151 वीं जयंती है। आप जानते होंगे लोग उन्हें भारत ही नहीं अपितु पूरी दुनिया में अहिंसा के बड़े समर्थकों में से एक मानते हैं। खास बात यह है कि गांधी जी के व्यक्तित्व का असर फ़िल्मी दुनिया में बॉलीवुड के साथ-साथ हॉलीवुड सिनेमा पर भी रहा है। आज हम आप लोगों को गांधी जी की जिंदगी पर बनी उन स्पेशल मूवीज के संबंध में बता रहे हैं जिन्होंने लोगों के मन और मस्तिष्क में एक विशेष छाप छोड़ रखी है। 


गांधी जी का भारत की स्वतंत्रता में जो कॉन्ट्रिब्यूशन है, उसे बहुत बार 70 मिमी के पर्दे पर अनेक बार उतारने का प्रयास किया गया है। यह ही नहीं उनके आदर्शों और उनके प्रभावशाली व्यक्तित्व को भी अलग अलग ढंग से सिल्वर स्क्रीन पर उतारने का प्रयास किया गया है। आज इस शुभ अवसर पर हम आज आपको, ऐसी हॉलीवुड फ़िल्मों के बारे में बताने वाले हैं जिन्होंने ऑस्कर पुरस्कार जीता है।  

गांधी जयंती 2020 : बॉलीवुड के साथ-साथ हॉलीवुड में भी दिख चुका है बापू के जीवन का असर, गांधी जी पर बनी इस मूवी को मिल चुका है ऑस्कर अवॉर्ड।
गांधी जयंती 2020


1. ‘गांधी’ को मिला ऑस्कर

आज़ादी के बाद वर्ष 1982 में एक ब्रिटिश-इंडियन मूवी आई थी। जिसका नाम ‘गांधी’ था। रिचर्ड एटनबरो द्वारा डायरेक्टेड, इस मूवी में बेन किंग्सले को लीड रोल दिया गया था। इस मूवी में गांधी जी की लाइफ के उस पार्ट पर अधिक फोकस किया गया है, जिसमें वो दक्षिण अफ्रीका में थे। देश की आजादी में उन्होंने कैसे एक महत्वपूर्ण रोल अदा किया एवं किस प्रकार से वर्ष 1948 के दौरान उनकी हत्या कर दी गई। इस मूवी को 55 वें एकेडमी अवॉर्ड्स में सबसे बेस्ट मूवी के लिए ऑस्कर अवॉर्ड भी दिया गया था।


2. द मेकिंग ऑफ़ महात्मा (1996)

सन 1996 में आई मूवी ‘द मेकिंग ऑफ़ महात्मा’ एक शानदार मूवी है। इस मूवी में मुख्य रूप से गांधी जी की भारत और साउथ अफ्रीका के मध्य क्या भूमिका थी, इस बात पर रौशनी डाली गई है। इसमें गांधी जी के जीवन के कुछ और हिस्से भी सम्मिलित है। श्याम बेनेगल द्वारा डायरेक्टेड,यह मूवी उन 21 सालों के दौरान गांधी जी की जिंदगी पर बनी है जो उन्होंने साउथ अफ्रीका में व्यतीत किए थे, जहां उन्होंने रियल में नस्लीय पक्षपात के विरुद्ध अपने अहिंसक आंदोलन को शुरू किया था। यह मूवी फातिमा मीर द्वारा लिखित ‘Apprenticeship of a Mahatma” नामक पुस्तक से प्रेरित थी। 


3. गांधी टू हिटलर (2011)

महात्मा गांधी की जिंदगी को लेकर वर्ष 2011 में आई ये मूवी बहुत स्पेशल है। इस मूवी में एडॉल्फ हिटलर की फॉर्म में रघुबीर यादव को सम्मिलित करा गया है, जबकि मूवी में मोहनदास करमचंद गांधी की फॉर्म में अवजीत दत्त एक मामूली भूमिका अदा करते हैं। यह मूवी गांधी जी द्वारा लिखित “द डाउनफॉल” पत्रों पर बेस्ड है जिसमें हिटलर को संबोधित करा गया है।

4. हे राम

कमल हासन ने भी सन 2000 में गांधी जी के ऊपर एक मूवी बनाई थी। इस मूवी का नाम ‘हे राम’ था। ये मूवी हिन्दी और तमिल में बनाई गई थी, जिसको बाद में तेलुगु में भी डब करा गया था। कमल हासन ने इस मूवी की स्टोरी लिखने के साथ-साथ इसका इसका निर्देशन भी किया था। यह ही नहीं वे इस मूवी में कई जगह एक्टिंग करते हुए भी दिखे। इस मूवी में कमल हासन के अतिरिक्त बहुत से नामी-गिरामी बॉलीवुड स्टार्स भी दिखें थे जिनमें शाहरुख खान , हेमा मालिनी, रानी मुखर्जी एवं नसीरुद्दीन शाह प्रमुख थे। 


5. लगे रहो मुन्ना भाई

यह मूवी वर्ष 2003 में आई संजय दत्त की ब्लॉकबस्टर मूवी ‘मुन्ना भाई MBBS’ का सीक्वल थी। इस मूवी में मुन्ना एवं सर्किट के करैक्टर को छोड़कर सभी किरदारों और इसकी पूरी स्टोरी को रिक्रिएट करा गया था। इसके साथ ही इसकी कहानी मुन्ना भाई MBBS से बदलकर, इस मूवी में गांधी जी के जीवन के कई महत्वपूर्ण सिद्धातों को नए तरीक़े से पेश करा गया था।

6. गाँधी My Father

फ़िरोज़ अब्बास ख़ान की यह फ़िल्म हरिलाल गाँधी उनके पिता, महात्मा गाँधी के बीच संबंध के बारे में है। फिल्म हरिलाल गांधी के जीवन के बारे में है, एक बेटा जिसकी त्रासदी एक ऐसे शख्स के साये में रहने वाली थी जो न सिर्फ उसके लिए बल्कि पूरे देश के लिए पिता था। यह फिल्म गांधी के उपनिवेशवाद विरोधी अभियान या सामान्य रूप से उनकी राजनीति पर ध्यान केंद्रित नहीं करती है, बल्कि यह उनके व्यक्तिगत जीवन पर एक नज़र रखने के लिए है, खासकर उनके बेटे हरिलाल गांधी के संबंध में जो अपने पिता की सलाह से भटक गए थे।


दोस्तों हमें उम्मीद है कि आपने यह सारी मूवी देख रखी होंगी। अगर आपने देख रखी है तो हमें कमेंट में बताएं कि आपको इनमें से सबसे अच्छी मूवी कौन सी लगी और उस मूवी का सबसे अच्छा पार्ट कौन सा था। साथ ही बॉलीवुड की ऐसी ही रोचक खबरों के लिए हमें सोशल मीडिया पर फॉलो करना ना भूलें।


Leave a Reply