एक Journalist होने का सम्मान पाएं: जानिए, पत्रकारिता में करियर कैसे बनायें।

1
एक Journalist होने का सम्मान पाएं: जानिए, पत्रकारिता में करियर कैसे बनायें।
एक Journalist होने का सम्मान पाएं: जानिए, पत्रकारिता में करियर कैसे बनायें।

पत्रकारिता में करियर विकल्प की बात करें तो वर्तमान के समय में जर्नलिज्म यानी कि पत्रकारिता के क्षेत्र में आप चाहे तो बहुत अच्छा करियर बन सकता है। आज के समय में हर दिन नए-नए टीवी चैनल और न्यूज़पेपर लांच हो रहे हैं। और इनके owners बड़े-बड़े शहर में अपने जर्नलिस्ट नियुक्त करते हैं। इन सब में आप आसानी से नौकरी पा सकते हैं। साथ ही आप पत्र – पत्रिकाओं में भी जर्नलिस्ट के तौर पर अपनी सेवा दे सकते हैं। इस समय के दौड़ में तो ज्यादातर ऑनलाइन मीडिया का ही बोलबाला है। इसे डिजिटल मीडिया या न्यूज़ मीडिया कहा जाता है और इसके अंतर्गत न्यूज़ पोर्टल, न्यूज़ वेबसाइट etc आते हैं। आजकल देखा जाए तो आए दिन न्यूज पोर्टल लॉन्च होते रहते है और इन न्यूज पोर्टल्स में आप आसानी से नौकरी ले सकते हैं।

इतनी तेजी से, इतना ज्यादा संख्या में न्यूज़ पोर्टल्स बनने के पीछे कारण यही है कि इस मीडिया के माध्यम में खर्च बहुत कम होता है। कोई भी चाहे तो 10 हज़ार की लागत में न्यूज़ पोर्टल डिजाइन करके इसे शुरू कर सकता है।

एक Journalist होने का सम्मान पाएं: जानिए, पत्रकारिता में करियर कैसे बनायें।

इन सब में आप नौकरी तलाश कर सकते हैं। इन सभी के अलावा आप सरकारी न्यूज़ चैनल मीडिया हाउस में भी नौकरी कर सकते हैं। इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, प्रिंट मीडिया या ऑनलाइन मीडिया इन सभी में जर्नलिस्ट की बहुत डिमांड रहती है। इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में न्यूज़ चैनल्स आते हैं, प्रिंट मीडिया में न्यूज़पेपर, पत्र, पत्रिकाएं आते हैं और ऑनलाइन मीडिया में न्यूज़ पोर्टल  और वेबसाइट इत्यादि आते हैं। अगर आप में एक अच्छे जर्नलिस्ट का टैलेंट आ जाता है तो आपको किसी अच्छे खासे चैनल में नौकरी मिल जाएगी। 

आईए अब जानते हैं जर्नलिस्ट बनने के कोर्स के बारे में

जर्नलिस्ट या पत्रकार बनने के लिए आप डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन, पीजी डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन, बैचलर इन मास कम्युनिकेशन, मास्टर इन मास कम्युनिकेशन, डिप्लोमा इन जर्नलिज्म डिग्री इत्यादि कोर्स कर सकते हैं।

डिप्लोमा कोर्स

Diploma course के अन्दर डिप्लोमा इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन, डिप्लोमा इन जर्नलिज्म, डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन, डिप्लोमा इन ब्राउन फास्ट, डिप्लोमा इन वेब मीडिया या ऑनलाइन मीडिया, डिप्लोमा इन इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, डिप्लोमा इन प्रिंट मीडिया इत्यादि कोर्स आते हैं। आप अपने इच्छानुसार, इन मे से बेस्ट कोर्स को कर सकते हो और जॉर्नलिस्ट बनने के अपने सपने को साकार कर सकते हैं।

डिग्री कोर्स

डिग्री कोर्स में बैचलर इन मास कम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म, बैचलर इन मास कम्युनिकेशन, बैचलर इन जर्नलिज्म, बैचलर इन ब्रॉडकास्ट जर्नलिज्म इत्यादि कोर्सेज को किया जा सकता है, जॉर्नलिस्ट बनने के लिए।

PG डिप्लोमा कोर्स

PG डिप्लोमा इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन, PG डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन, PG डिप्लोमा इन ब्रॉडकास्ट जर्नलिज्म, PG डिप्लोमा इन जर्नलिज्म।

मास्टर डिग्री कोर्स

मास्टर्स इन मास कम्युनिकेशन,  मास्टर्स इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन, एमएससी मास कम्युनिकेशन इत्यादि। अब जानते है, जॉर्नलिस्ट का कोर्स करने के लिए हमारे पास क्या क्या योग्यताए होनी चाहिए।

जर्नलिस्ट कोर्स के लिए योग्यता

जर्नलिस्ट का कोर्स करने के लिए आपको किसी भी स्ट्रीम से 12वीं पास होना पड़ेगा। इसके बाद आप जर्नलिस्ट में  डिप्लोमा या डिग्री कोर्स कर सकते हैं।

पत्रकारिता में मास्टर डिग्री लेने के लिए आपसे जर्नलिज्म में बैचलर डिग्री मांगी जाती है। लेकिन कुछ कॉलेजों में BA या BSc के बाद मास्टर डिग्री कोर्स कर सकते हैं।  

किसी अच्छे कॉलेज में दाखिला ले

अगर आप पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना भविष्य उज्जवल बनाना चाहते हैं, अपना करियर बनाना चाहते हैं। तो आपको किसी जाने-माने कॉलेज से इसका कोर्स करना चाहिए। क्योंकि आजकल के समय में ऐसे बहुत से कॉलेजेस हैं, जहां जर्नलिज्म कोर्स कराए तो जाते हैं लेकिन उन कॉलेजों में ना तो इनकी अच्छी फैसिलिटी होती है और ना ही वह स्टूडेंट को सारे चीजों की प्रैक्टिकली जानकारी दे पाते हैं। इस तरह से आपका ही नुकसान होगा क्योंकि किसी भी चीज को करने में जो सबसे जरूरी होता है, वह होता है टैलेंट। जिस फील्ड में आप जाना चाहते हैं उस फील्ड की पूरी जानकारी होनी बहुत जरूरी है। अगर आपके पास जानकारी ही नहीं होगी तो आप उसमें कुछ भी अच्छा नहीं कर पाएंगे। इसीलिए किसी भी कॉलेज में एडमिशन लेने से पहले आप वहां की फैसिलिटी और केंपस प्लेसमेंट की सारी जानकारी जरूर हासिल कर लें।

जर्नलिस्ट बनने के लिए कुछ खास क्वालिटी, जो आपमें होनी चाहिए –

* भाषा पर आपकी अच्छी पकड़ होनी चाहिए।

* आपकी लिखावट भी अच्छी होनी चाहिए।

* टाइपिंग, कंप्यूटर नॉलेज आपके पास होना चाहिए।

* किसी भी न्यूज़ को जल्दी से समझने की क्षमता आपके अंदर होनी चाहिए।

* न्यूज़ को विश्लेषण करने की क्षमता भी होनी चाहिए।

* आपको निडर होना पड़ेगा।

* साथ ही आपको साहसी और ईमानदार होना पड़ेगा।

* विषम परिस्थितियों में भी काम करने की क्षमता।

* न्यूज़ रिपोर्ट, न्यूज़ राइटिंग, न्यूज़ एडिटिंग,फोटोग्राफी की कला।

* समय का पाबंद होना पड़ेगा।

* करेंट मुद्दों की सारी जानकारी।

* न्यूज़ को शार्ट बनाने की योग्यता।

आप चाहे तो किसी गवर्नमेंट कॉलेज या यूनिवर्सिटी से मास कम्युनिकेशन का कोर्स कर सकते हैं। बहुत से न्यूज़ चैनल के भी मीडिया कॉलेज होते हैं। आप चाहे तो वहां से भी इस कोर्स को कर सकते हैं। नीचे हम आपको कुछ कॉलेज के नाम बता रहे हैं, जहां से आप यह कोर्स कर सकते हैं।

★दिल्ली यूनिवर्सिटी

★अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी 

★इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी 

★इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मास कम्युनिकेशन, दिल्ली ★भारतीय विद्या भवन, दिल्ली

★गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़

★माखन लाल चतुर्वेदी यूनिवर्सिटी, भोपाल

★गुरु घासीदास यूनिवर्सिटी, बिलासपुर छत्तीसगढ़

★व्हिसलिंग वुड्स इंटरनेशनल, मुंबई

★सिंबोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन, पुणे

★चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी

★मनोरमा स्कूल ऑफ कम्युनिकेशन, केरल

★हैदराबाद यूनिवर्सिटी
फीस कितनी लगती है

अगर फीस की बात करें तो प्राइवेट कॉलेज में अगर आप पढ़ने जाते हैं, तो आपको 50 हजार से लेकर लगभग एक लाख तक फीस प्रतिवर्ष लग सकता है। अगर आप ज्यादा फीस देने में  सक्षम ना हो तो आप सरकारी कॉलेज से जर्नलिज्म का कोर्स कर सकते हैं। सरकारी कॉलेज या यूनिवर्सिटी में इसकी फीस बहुत कम होगी। सरकारी कॉलेज में, 10 हजार से लेकर 30 हजार रुपए प्रति वर्ष लग सकता है।

जर्नलिज्म कोर्स में एडमिशन कैसे ले

सरकारी कॉलेजों में एडमिशन, एंट्रेंस टेस्ट के माध्यम से होता है। लेकिन कुछ सरकारी कॉलेजों में मेरिट के आधार पर ही एडमिशन मिल जाती है। वही प्राइवेट कॉलेजों में डायरेक्ट भी एडमिशन हो जाता है।

कोर्स करने के बाद जरूरत पड़ती है नौकरी ढूंढने की।

जर्नलिस्ट का कोर्स करने के बाद आपको किसी अच्छे मीडिया हाउस में इंटर्नशिप करनी चाहिए। अगर आप इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में जाना चाहते हैं तो आप किसी न्यूज़ चैनल में इंटर्नशिप कर सकते हैं। अगर आप प्रिंट मीडिया में नौकरी करना चाहते हैं तो आप किसी अच्छे न्यूज़पेपर में इंटर्नशिप कर सकते हैं। अगर आप वेब मीडिया में काम करना चाहते हैं तो आपको किसी न्यूज़ पोर्टल में इंटर्नशिप करना चाहिए। लोग अक्सर यही गलती कर बैठते हैं उनको जाना कही और रहता है और इंटर्नशिप कही और कर बैठते हैं।

जर्नलिस्ट के काम

किसी भी पत्रकार का काम बहुत चुनौतीपूर्ण होता है। किसी भी रिपोर्टर को बाढ़, तूफान, टेरेरिस्ट अटैक इत्यादि सब की रिपोर्टिंग करनी होती है, साथ ही सरकार के काम-काज पर भी नजर रखनी होती है। किसी भी पत्रकार का मुख्य कार्य होता है न्यूज़ तलाशना और उन्हें इकट्ठा करना। इस काम को करने के लिए उन्हें फील्ड में जाना पड़ता है। फिर उस न्यूज़ को कंप्यूटर पर लिखना होता है। उसके बाद ही वह न्यूज़ समाचार, टेलीविजन, रेडियो, न्यूज़ पोर्टल इत्यादि के माध्यम से लोगों के पास पहुंचती है। न्यूज़ में कैमरामैन, एडिटर, फोटोग्राफर सब का योगदान होता है।

हर एक परिस्थिति में एक रिपोर्टर को बिना डरे, फील्ड में उतरना होता है। जान की परवाह किए बिना न्यूज़ हासिल करना होता है। चाहे वह कोई भी जगह हो उस जगह पर  जर्नलिस्ट को पहुंचना होता है। और न्यूज़ हासिल करनी होती है। ऐसे में अगर आपके अंदर पत्रकारिता का जुनून है तो ही आप इस फील्ड में कदम रखें। नहीं तो आप अपना पैसा और टाइम बर्बाद ना करें। पत्रकारिता करना आसान बात नहीं होता है। क्योंकि यहां पर आपकी जान जोखिम में रहती है। आपको बड़े बड़े क्रिमिनल, बेईमान, भ्रष्टाचारी नेता, डाकू के खिलाफ भी समय आने पर लिखना होता है। भयंकर से भयंकर परिस्थिति में भी आपको काम करना पड़ सकता है। इसीलिए अगर आप मानसिक और शारीरिक दोनों रूप से पत्रकारिता के लिए तैयार हैं। तो ही आप इस फील्ड में कदम रखें। अगर आपके पास कोई न्यूज़ है तो आप पैसे लेकर इसे कभी भी मत दबाइए हमेशा मेहनत और ईमानदारी के साथ काम करते रहिए। समाज में भ्रष्टाचार को उजागर करने में जर्नलिस्ट का बड़ा हाथ होता है। इसीलिए अपने कर्तव्य के प्रति ईमानदार रहिए आपको अवश्य सफलता मिलेगी। आशा है आपको यह जानकारी अच्छी लगी होगी और अगर आप एग्जाम लिस्ट बनने का सपना रखते हैं तो अब आपको इस बारे में सारी जानकारी मिल गई होगी और आपका सारा डाउट क्लियर हो गया होगा अगर आपका कोई सवाल है सुझाव है तो कमेंट करके जरूर बताएं

Leave a Reply