Homeहिन्दीजानकारीअपने घर को पार्क जितना सुंदर बनाए: जाने बागवानी का सही तरीका

अपने घर को पार्क जितना सुंदर बनाए: जाने बागवानी का सही तरीका

बहुत से लोगों को छोटे-मोटे पेड़ पौधे लगाने का, बागवानी करने का बहुत शौक होता है। अपने घर के सामने गार्डन बनाकर अपने घर को सुंदर बनाने का भी कुछ लोगों का शौक होता है। अगर हमारे घर में छोटा सा गार्डन हो तो हमारा घर सुंदर और आकर्षक लगने के साथ-साथ हमें शांति के दो पल बिताने के लिए दूर किसी और जगह जाने की जरूरत नहीं पड़ती है। जिन लोगों के घर में खाली जगह है वह अपने घर में ही सुंदर-सुन्दर पेड़ पौधे लगाकर आकर्षक बना रहे हैं और आस पास के प्रदूषित वातावरण से भी निजात पा रहे हैं। हर किसी को दो पल अच्छे से और शांति से बिताने का जी करता है। ऐसे में योगा, व्यायाम करने के लिए भी हमें दूर किसी पार्क इत्यादि में जाना पड़ता है।  तो क्यों न आप अपने घर में ही छोटा सा बागान बना ले, जिसमें शांति के पल बिताने से लेकर आप व्यायाम योगा कुछ भी कर सकते हैं।

अपने घर को पार्क जितना सुंदर बनाए: जाने बागवानी का सही तरीका।

अगर आपको हरियाली का शौक है तो आप छोटे से जगह में ही गार्डन बना सकते हैं। लेकिन आप सोच रहे होंगे कि आखिर हम ऐसा वातावरण कैसे बनाएंगे। आज मैं आपको इसी बारे में जानकारी दूंगी, जिससे आप अपने घर के सामने या घर के पीछे गार्डन बना सकते हैं और अपने घर को सुंदर बना सकते है। बस इसके लिए आपके घर में कुछ जगह होने की जरूरत है, जो सामान्य तौर पर हर घरों में रहती ही है। आपको सबसे पहले उस जगह को अच्छी तरह से साफ कर लेना है और थोड़े से जगह को छोड़कर पूरे Area में फूल और कई तरह के पेड़ लगा सकते हैं। जैसे कि अगर आपके पास जगह की कमी है तो आप सिर्फ फूल का ही पेड़ लगा सकते हैं। लेकिन अगर आपके पास जगह ज्यादा है तो आप फूल के साथ साथ छोटी-मोटी सब्जी या फल और मेडिसिन जैसे भी लगा सकते हैं।  घर में Garden बनाने के लिए इन बातों पर अवश्य ध्यान दें।

मिट्टी 

गार्डन बनाने के लिए आप सबसे पहले मिट्टी की तैयारी कर लें। पौधे लगाने से पहले गमलो में डालने वाली  मिट्टी को 2 से 3 दिन तक धूप दिखा दें इससे मिट्टी में मिली हुए कीड़े मकोड़े खत्म हो जाते हैं और फिर मिट्टी को गोबर या खाद में अच्छी तरह मिलाकर गमलों में डाले। गमले के ऊपर का लगभग एक तिहाई हिस्सा खाली रखें ताकि जब आप पानी डालें तो मिट्टी और खाद का पोषण पानी के साथ बह ना पाए।

गमले 

गमले में, आप मिट्टी का ही गमला इस्तेमाल करें। आप उसे किसी प्लास्टिक की चीज पर रख सकते हैं ताकि वहां गंदगी ना फैले। आप चाहे तो मजबूती के लिए सीमेंट का गमला भी ले सकते हैं। लेकिन प्लास्टिक के गमले उतने अच्छे नहीं होते हैं क्योंकि उसमें पौधे का विकास नहीं हो पाता है।  

बीज बोने की तैयारी करें 

जब भी आप कोई बीज बोते है तो ध्यान रखे, जिस भी आकार का बीज है उससे दुगना मिट्टी आप बीज के ऊपर डाल दें। यानी कि बीज के आकार से दुगने मिट्टी की परत बीज के ऊपर होनी चाहिए। नहीं तो अंकुर फूटने में बहुत समय लग जाएगा। जब आप बीज को रोप दें, उसके बाद हल्का पानी डाल दे और ध्यान रहे जब भी आप बीच लगाए तो वहां पर धूप पढ़नी चाहिए। अगर आप चाहे तो पौधे में 4 से 6 पतिया आने के बाद उस पौधे रात या शाम के वक्त दूसरे गमले में भी ट्रांसफर कर सकते है ।

खाद की बहुत जरूरत है

खाद चाहे गोबर का हो या मार्केट में मिलने वाला केमिकल फर्टिलाइजर्स, खाद मुख्य दो प्रकार के होते हैं – जैविक खाद और रासायनिक खाद। जैविक खाद जीवों से बने होते हैं जैसे कि, गोबर और पशु या मनुष्य के मल मूत्र से बनने वाली खाद, इसमें हानिकारक केमिकल नहीं मिले होते हैं। दूसरी तरफ रसायनिक खाद में नाइट्रोजन, पोटाश, फास्फोरस से बने होते हैं। अगर आप इस खाद का इस्तेमाल करते हैं तो मिट्टी कम समय में ज्यादा उपजाऊ हो जाती है। लेकिन अगर आप इसका ज्यादा इस्तेमाल करते हैं, तो जमीन में पोषक तत्वों का असंतुलन हो जाता है, जिसके कारण जमीन आगे चलकर बंजर भी हो सकती है। तो इसीलिए जहां तक आपसे हो सके तो आप रसायनिक खाद के बजाय जैविक खाद का ही इस्तेमाल करें।

पौधों में पानी डालें   

पौधों में पानी डालें और पानी हिसाब से डालें क्योंकि ज्यादा पानी देने से मिट्टी के कणों के बीच मौजूद अक्सीजन पौधों की जड़ों में नहीं पहुंच पाता है। इसीलिए जब आपको गमले सूखे लगे तभी पानी डालें और मौसम का भी ध्यान रखें। सर्दियों में आप हर तीसरे-चौथे दिन पानी डालें और गर्मियों में रोजाना दो बार पानी डालें। आप पानी सुबह शाम को डाल सकते हैं  

अपने घर को पार्क जितना सुंदर बनाए: जाने बागवानी का सही तरीका।

धूप भी है बहुत जरूरी

धुप पौधे के लिए बहुत जरुरी होता है लेकिन ध्यान रखे कभी भी धूप में पौधे पर पानी ना डालें। हलाकि धूप पौधों के लिए बहुत जरूरी होता है लेकिन जब दोपहर की कड़ी धूप पड़ती है तब पौधों को धूप से बचाए और अगर आप घर के भीतर पौधे रखे हैं तो उनको भी बाहर निकाल कर धूप दिखाएं।

नियमित रूप से मिट्टी की गुढ़ाई करें

जब भी आप पौधे लगाए तो गमलों की मिट्टी में उंगली डालकर देखे। अगर मिट्टी आपको बहुत ज्यादा सख्त लगे तो उस मिट्टी को गुड़ाई करना बहुत जरूरी है। कम से कम आप महीने में एक बार मिट्टी की गुड़ाई अवश्य करें। इससे मिट्टी गीली रहती है और अपने आप उगे हुए घांसो की सफाई भी हो जाती है।

अब जानते हैं कुछ पौधो के बारे में 

आप गार्डन में फूल, फल, सब्जी और कुछ सजावटी पौधे लगा सकते हैं। जैसे आप पाम साइकस, पाम अडिका, पाम मनीप्लांट, जेट्रोफा, बॉटल ब्रश इत्यादि के अलावा फूलों के ढेर सारे पौधे लगा सकते हैं। आप मौसम को ध्यान में रखकर अपने पसंदीदा पौधे लगा सकते हैं। 

कुछ पौधे आप हर मौसम में लगा सकते हैं, वह बारहमासी पौधे कहलाते हैं जैसे कि हैबिस्कस, रात की रानी, मोतिया, चमेली, मोगरा, फाइकस, मोरपंख, बोगनवेलिया, गेंदा इत्यादि। यह सब पौधे बारहमासी होते हैं। आप इन पौधों को हर समय लगा सकते हैं

गर्मी के मौसम के पौधे

गर्मी के मौसम में आप जीनिया, सूरजमुखी, तिथोनिया, कॉसमॉस, गेलार्डिया इत्यादि फूलों के पेड़ लगा सकते हैं। आप इन फूलों को फरवरी के आखिरी में लगा सकते हैं और लगाने के 2 महीने बाद अप्रैल तक उन पौधों में फूल आने शुरू हो जाते है

मानसून के पौधे

मानसून के मौसम में आप बालसम,एजेरेंटम, टोरिनिया, कनेर, एमरेंथस, गामफेरिना इत्यादि लगा सकते हैं। ऐसे पौधे 15 जून के बाद लगाया जाता है। क्योंकि आप दो से ढ़ाई महीने के बाद आप इन पौधो में फूल देख सकते हैं।

सर्दी के मौसम के पौधे

सर्दी के मौसम में आप गुलाब, कॉर्न फ्लावर, कारनेशन, डहेलिया, गुलदाउदी, हॉलीहॉक, गेंदा, कॉसमॉस, डेजी इत्यादि फूल लगा सकते हैं। इनको आप अक्टूबर में लगाए। इन पौधो में दिसंबर, जनवरी में फूल आ जाते हैं।


मच्छर भगाने वाले पौधे

इनके अलावा भी कुछ पौधे ऐसे होते हैं, जिससे मच्छर भागते हैं। मच्छर भगाने वाले पौधों में आप खास तौर पर गेंदा, लेमन बाम, तुलसी, नीम, लैवंडर, रोजमेरी, हार्समिंट, सिट्रोनेला इत्यादि लगा सकते हैं। यह पौधे हवा को साफ करते हैं।


अब जानते हैं कुछ सब्जियो के बारे में 

सब्जियो में नेचुरल ग्रीटिंग वाले फल और सब्जियां काफी अच्छे होते हैं। सब्जियों में आप पुदीना, धनिया, करी पत्ता, लेमन ग्रास, हरी मिर्च इत्यादि उगा सकते हैं। इन्हें फलने फूलने के लिए ज्यादा धूप की जरूरत नहीं पड़ती है। ऐसे में आप इस छोटी-मोटी सब्जी और फूलों को बोकर घर को गार्डनिंग की तकनीक से सुन्दर बना सकते हैं। सब्जियों में आप टमाटर, बींस, बैगन, मिर्च, भिंडी, जैसी सब्जियां उगा सकते हैं। करेला और खीरा जैसी सब्जियां भी बहुत अच्छी है, जो आपके गार्डनिंग के शोभा को भी बहुत बड़ा देंगे। जो सबसे आसान सब्जियां है, वह बैंगन, भिंडी आदि होते हैं, जो करीब 45 दिनों में उजिया जाते हैं। गर्मियों में आप करेला, टिंडा, खीरा, ककड़ी, तोरी, बैंगन, भिंडी, टमाटर इत्यादि लगा सकते हैं। और सर्दियों के मौसम में आप पालक, मेथी, गाजर, मूली इत्यादि लगा सकते हैं।

अपने घर को पार्क जितना सुंदर बनाए: जाने बागवानी का सही तरीका।

मेडिसिनल पौधे भी जरूर लगाएं

तुलसी, एलोवेरा, गिलोय, पुदीना, नीम इत्यादि जैसे पौधे सेहत के लिए बहुत अच्छे होते हैं और छोटी-मोटी बीमारियों में यूज किया जा सकता है। तुलसी एक नाजुक पौधा होता है और यह सर्दियों में मुरझा जाते हैं। इसीलिए आप इसका टेंपरेचर के हिसाब से खूब ध्यान रखे। तेज सर्दियों में आप इसे घर के अंदर रख दें। मेडिसिनल पौधे लगाने से आपका घर सुन्दर लगने के साथ आपको बहुत फायदे भी होंगे। बाकी पौधे भी बहुत फायदेमंद होते हैं। इसीलिए मेडिसिनल पौधे जरूर लगाएं।

आशा करती हूं बागवानी से जुड़ा यह आर्टिकल आपको जरूर पसंद आया होगा। तो अगर यह पोस्ट पसंद आई तो इसको Like करें, Comment करें और अपने दोस्तों के साथ ज्यादा से ज्यादा Share करें।

Jhuma Ray
नमस्कार! मेरा नाम Jhuma Ray है। Writting मेरी Hobby या शौक नही, बल्कि मेरा जुनून है । नए नए विषयों पर Research करना और बेहतर से बेहतर जानकारियां निकालकर, उन्हों शब्दों से सजाना मुझे पसंद है। कृपया, आप लोग मेरे Articles को पढ़े और कोई भी सवाल या सुझाव हो तो निसंकोच मुझसे संपर्क करें। मैं अपने Readers के साथ एक खास रिश्ता बनाना चाहती हूँ। आशा है, आप लोग इसमें मेरा पूरा साथ देंगे।

Leave a Reply Cancel reply

error: Content is protected !!