Tuesday, November 29, 2022
Homeहिन्दीजानकारीकहीं आपके शरीर में तो नहीं होता दर्द अगर होता है तो...

कहीं आपके शरीर में तो नहीं होता दर्द अगर होता है तो जरुर जाने इसके कारण और बचाव के बारे में

अक्सर हमारे शरीर में अचानक से दर्द होता है और ऐसे में हम समझ नहीं पाते कि आखिर हमारे बॉडी में दर्द होता क्यों है ? हालांकि यह एक छोटी सी समस्या है जो की आम तौर पर ज्यादा थकान, स्ट्रेस होने की वजह से होता है। बॉडी पेन केवल एक जगह नहीं बल्कि पूरे शरीर में होता है बॉडी पेन होने पर पूरे शरीर में दर्द का एहसास होता है और अजीब सी झनझनाहट होती है। ऐसा होने पर व्यक्ति को लगता है कि वह हर समय आराम ही करता रहे।

ऐसे में कोई भी काम करने का मन नहीं करता और ऐसा होने पर लोग समझते हैं कि यह थकान के कारण हो रहा है। लेकिन कई बार थकान के अलावा ऐसे कई कारण होते हैं जो शरीर में दर्द का कारण बनते हैं। ऐसे में हमें यह जानना जरूरी होता है कि शरीर में दर्द का कारण क्या है। क्योंकि ऐसा हो सकता है कि हमारे शरीर में अंदर ही अंदर कोई बीमारी हो और हम उसे समझ ही ना पा रहे हो, तो चलिए जानते हैं शरीर में दर्द होने का क्या कारण होता है।

जब हमारे शरीर में खून की कमी यानी एनीमिया या विटामिन डी की कमी, स्ट्रेस आदि जैसे लक्षण होते हैं तो हमारे शरीर में दर्द का एहसास होता है ये हमारे शरीर में दर्द होने के मुख्य कारण माने जाते हैं। इसके अलावा शरीर में होने वाले दर्द के मुख्य कारणो में हमेशा तनाव में रहना, थकान होना, पानी की कमी, नींद की कमी इसके साथ फ्लू आदि जैसे कारणो से भी शरीर में दर्द होता है।

ये दर्द या तो हमेशा होते हैं या लंबे समय तक एक ही जगह खड़े रहने पर, चलते समय या एक्सरसाइज करते समय होते है। हालाकि ऐसा होने पर घबराने की कोई जरूरत नहीं होती है क्योंकी ये छोटी-मोटी समस्याएं हैं जिस थोड़ी सी सावधानी बरतकर ठीक की जा सकती है। लेकिन अगर हम इन लक्षणो को नजरअंदाज कर दें और लंबे समय तक हमारे शरीर में खून की कमी जैसी कोई समस्या रहे तो हमें आगे चलकर किसी भारी समस्या में डाल सकती है। इसीलिए समय रहते ही शरीर में हो रहे दर्द का एहसास करके डॉक्टर से संपर्क करना जरूरी होता है।

कहीं आपके शरीर में तो नहीं होता दर्द अगर होता है तो जरुर जाने इसके कारण और बचाव के बारे में

तनाव 

शरीर में दर्द होने के प्रमुख कारण की बात करें तो वह है तनाव, सीधे तौर पर तनाव हमारे जीवन शैली को पूरी तरह से प्रभावित करती है। आजकल हर दूसरे व्यक्ति में तनाव की समस्या है तनाव लेने के वजह से ही हमारे कंधे पैरो और कमर की मांसपेशियो में दर्द का एहसास होता है। ऐसे में तनाव को कम करने के लिए नियमित जीवनशैली, मेडिटेशन और आराम की सख्त जरूरत होती है।

पर्याप्त नींद की कमी 

जब हम पर्याप्त नींद नहीं लेते तो हमारे पूरे शरीर को यह प्रभावित करता है। पर्याप्त नींद ना लेने से हमें कई प्रकार की समस्याएं होती है जिनकी शुरुआत सबसे पहले शरीर दर्द होने से ही शुरू होती है। नींद की कमी होने से हमारे शरीर के उत्तक और कोशिकाए ठीक से काम नहीं कर पाती इससे हमारे शरीर में दर्द का एहसास होता है। हम कोई भी काम करें उसमें अपना पूरा ध्यान लगाने के लिए पूरी नींद लेनी जरूरी होती है। नींद की कमी होने के कारण ही शरीर में थकान का एहसास होता है।

एनीमिया

एनीमिया यानी कि खून की कमी जिन लोगो में एनीमिया की समस्या होती है यानी की खून की कमी होती है वह लोग अपने अंगो में हमेशा थकान महसूस करते हैं। एनीमिया तब होता है जब शरीर में लाल रक्त कोशिकाएं पर्याप्त रूप से काम नहीं कर पाती है। इससे शरीर के उत्तको को पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं मिलता ऐसा होने पर शरीर के कई हिस्सो में थकान और दर्द का एहसास होता है।

कहीं आपके शरीर में तो नहीं होता दर्द अगर होता है तो जरुर जाने इसके कारण और बचाव के बारे में

डिहाइड्रेशन

डिहाइड्रेशन यानि पानी की कमी जब हमारे शरीर में पानी की कमी होती है तब भी हमारा शरीर दर्द करता है। जिस कारण हमारा शरीर ठीक से सांस नहीं ले पाता साथ ही पाचन शक्ति भी कमजोर हो जाती है।डिहाइड्रेशन होने पर शरीर की ऐसी कई प्रक्रिया है जो ढीली पड़ जाती है जिससे शरीर में दर्द का एहसास होता है। ऐसा होने पर हमारा पेशाब पीला होता है, चक्कर आते है, थकावट का एहसास होता है, बार-बार प्यास लगती है और ये सब डिहाइड्रेशन के लक्षण हैं। 

बुखार, फ्लू या डायरिया

जब हमारे शरीर में डायरिया की स्थिति होती है तो  हमारा शरीर दर्द करने लगता है क्योंकि डायरिया के कारण शरीर में पानी की कमी हो जाती है। इसके अलावा जब हमें बुखार आने वाला होता है या आ जाता है तो भी हमारे शरीर में दर्द होता है। इसके अलावा फ्लू होने के कारण भी हमारे पीठ, और बाहो के मांसपेशियो में दर्द होता है। ऐसे में हो सकता है कि आपके शरीर में दर्द का कारण फ्लू, बुखार या डायरिया हो ऐसे में आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

गठिया

जब हमारे जोड़ो में सूजन आ जाती है तब गठिया होने की संभावना बढ़ जाती है और यह गठिया आपके जोड़ो में दर्द पैदा कर सकते हैं। ये आपके शरीर के मूवमेंट को भी सीमित कर देते हैं गठिया होने पर शरीर के अंदर जोड़ो में जकड़न और सूजन हो जाता है। यह गाठिया होने का प्रमुख लक्षण होता है ऐसे में पूरा शरीर दर्द करता है।

पूरे शरीर में दर्द होने पर जरुर रखें इन बातो का ध्यान

शरीर में दर्द होने पर मेडिटेशन करें, एक्सरसाइज करें और योग भी करें। साथ ही अपनी जीवनशैली में सुधार करें, क्योंकि हो सकता है आपके अनियमित जीवनशैली के कारण आपके शरीर में दर्द हो रहा हो। ऐसे में खुद को हाइड्रेटेड रखे और खानपान में ध्यान दें। शरीर में दर्द होने के कारणो में डिहाइड्रेशन यानी कि पानी की कमी या एनिमिया खून की कमी हो सकती है। ऐसे में रोजाना ज्यादा से ज्यादा पानी पिए और खानपान को ठीक करें, ताकि आपके शरीर में किसी विटामिन या खून की कमी ना हो।

तनाव ना लें

कहीं आपके शरीर में तो नहीं होता दर्द अगर होता है तो जरुर जाने इसके कारण और बचाव के बारे में

किसी भी काम का ज्यादा प्रेशर या किसी भी बात का तनाव ना लें क्योंकि इससे आपके शरीर को थकान होती है। जितना हो थकान से बचे, आराम करें और रोजाना 8 घंटे की नींद पूरी करें हो सके तो एक-दो दिन काम से छुट्टी लेकर दिन में भी बेड रेस्ट लें।

खान पान का विषेश ध्यान रखें

कैल्शियम, प्रोटीन युक्त खानपन का सेवन हर किसी के लिए जरूरी होता है। जब हमारे शरीर में कैल्शियम प्रोटीन जैसे तत्वो की कमी होती है तो हमारे शरीर की मांसपेशिया और हड्डिया कमजोर हो जाती है जिस कारण शरीर में दर्द होता है। ऐसे में दूध, दही, ड्राई फ्रूट्स आदि जैसे चीजो का सेवन करना जरूरी होता है।

फल और सब्जियो का सेवन है जरुरी

इसके अलावा हमारे शरीर में विटामिन की कमी होने पर भी दर्द होता है। इसीलिए शरीर में न्यूट्रीशन की कमी ना होने दें खासकर के विटामिन B, विटामिन C विटामिन A और विटामिन D। क्योंकि विटामिन की कमी होने पर शरीर में दर्द होता है ऐसे में अपने खाने में हरी सब्जियां, फल और विटामिन D युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करना जरूरी है।

गर्म पानी का प्रयोग

शरीर में होने वाले दर्द को कम करने के लिए गर्म पानी का प्रयोग करें। खास करके नहाने के लिए, गर्म पानी से नहाने से मांसपेशियो का तनाव और सूजन कम होता है और हमारे शरीर को अंदर से राहत मिलती है।

गर्म पानी से नहाने के बाद आप तरोताजा महसूस करते हैं और शरीर की मांसपेशियो में होने वाला दर्द कम हो जाता है।

सुबह उठकर चाय पीने की आदत तो सबको होती है ऐसे में चाय के जगह पर ग्रीन टी, अदरक की काली चाय, तुलसी, मुलेठी, दालचीनी आदि से बनी हुई हर्बल टी का सेवन करें। काली चाय में नींबू का रस और शहद मिलाकर भी सेवन कर सकते हैं इससे एनर्जी मिलती है, थकान दूर होती है और शरीर का दर्द कुछ हद तक कम होता है।

हमें हमेशा से यह सलाह दी जाती है कि छोटी या बड़ी कोई भी बीमारी हो तो हमें समय रहते ही उसे दूर करना चाहिए। हालांकि शरीर में दर्द छोटी-मोटी कारणो से हो सकता है लेकिन लंबे समय तक शरीर में दर्द महसूस होना अच्छी बात नहीं है। ऐसे में इस बात को नजर नजरअंदाज ना करते हुए जरूरी सावधानी बरते और डॉक्टर से संपर्क करें, धीरे-धीरे यह दर्द गंभीर समस्या बन सकती है। इसीलिए समय रहते दर्द के कारणो को जानकर उसका निदान पाना जरूरी हो जाता है।

Jhuma Ray
Jhuma Ray
नमस्कार! मेरा नाम Jhuma Ray है। Writting मेरी Hobby या शौक नही, बल्कि मेरा जुनून है । नए नए विषयों पर Research करना और बेहतर से बेहतर जानकारियां निकालकर, उन्हों शब्दों से सजाना मुझे पसंद है। कृपया, आप लोग मेरे Articles को पढ़े और कोई भी सवाल या सुझाव हो तो निसंकोच मुझसे संपर्क करें। मैं अपने Readers के साथ एक खास रिश्ता बनाना चाहती हूँ। आशा है, आप लोग इसमें मेरा पूरा साथ देंगे।
RELATED ARTICLES

Leave a Reply

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: