Homeहिन्दीजानकारीकैंसर के खतरे को कम करने वाले कुछ खाद्य पदार्थ 

कैंसर के खतरे को कम करने वाले कुछ खाद्य पदार्थ 

भारत में लगातार कैंसर की बीमारी बढ़ती जा रही है और यह खतरा बढ़ने का एकमात्र का कारण है खान-पान का सही से ध्यान न रखना। अनियमित जीवनशैली साथ ही कुछ ऐसे नशीली पदार्थो का सेवन जिससे कैंसर का खतरा बढ़ता जा रहा है। इसके अलावा शरीर में आवश्यक विटामिन, मिनरल आदि जैसे पोषक तत्वो की कमी के कारण भी यह बीमारी लोगो में तेजी से फैलती जा रही है। 

हमारा शरीर एक मशीन की तरह होता है जिसे सही से काम करने के लिए उचित मात्रा में ऊर्जा की आवश्यकता होती है। जो हमारे शरीर को न मिल पाने के कारण हमारे शरीर में कई गलत बीमारियो को जन्म देने वाले विषाक्त पदार्थ उत्पन्न होने लगते हैं। वातावरण में फैले प्रदूषण और विषाक्त पदार्थ जैसे विभिन्न कारणो से कैंसर जैसी घातक बीमारी लोगो में फैलती जा रही है। तो चलिए जानते हैं कैंसर जैसी घातक बीमारी से बचाने वाले कुछ खास खाद्य पदार्थो के बारे में।

भारतीय कैंसर के खतरे को कम करने के लिए हमें हरी सब्जिया और फल खाने की सलाह दी जाती है। अगर फलो की बात करें तो फलो में पपीता कीनू, संतरे, गाजर, आम, अंगूर, तरबूज आदि जैसे फल हमारे शरीर में कैंसर जैसे खतरे को पैदा होने नहीं देती। गाजर में मौजूद बेटा कैरोटीन, कैंसर के खतरे को कम करता है एक स्टडी के मुताबिक गाजर खाने से प्रोस्टेट कैंसर का खतरा कम होता है।

यह सभी फल विटामिन और ऐसे तत्वो से भरपूर होते हैं जो हमारे लिवर में पाए जाने वाले कार्सिनोजेन को अपने आप खत्म कर देते हैं। कीनू और उसके छिलके में नॉबिलेटिन और फ्लेवइड्स नाम के तत्व पाए जाते हैं जो कैंसर कोशिकाओ को रोकने में मदद करता है। गाजर में कैरोटीन का भरपूर मात्रा होता है जो कैंसर के खतरे को कम करने में काफी शक्तिशाली है। गाजर का सेवन गर्भाशय, मूत्राशय, स्तन आदि जैसे कई प्रकार के कैंसर की रोकथाम के लिए असरदार होता है।

* टमाटर और तरबूज

टमाटर और तरबूज में लाइकोपीन का समृद्ध स्रोत होता है जो मजबूत एंटीऑक्सीडेंट माना जाता है। पर्याप्त मात्रा में टमाटर के सेवन से प्रोस्टेट कैंसर का खतरा लगभग 18% तक कम हो जाता है।

* हरी सब्जिया

सब्जियो में टमाटर के अलावा फूल गोभी और ब्रोकोली हमारे शरीर में दो ताकतवर कैंसर रोधी अनु माने जाते हैं। यह दोनो डिटॉक्सिफिकेशन एंजाइम के उत्पादन को बढ़ाते हैं जो हमारे शरीर में कैंसर की कोशिकाओ को मारने में मदद करते हैं। साथ ही शरीर में किसी प्रकार की ट्यूमर को भी बढ़ने से रोक देते हैं। यह हमारे शरीर में फेफड़े, प्रोस्टेट, मूत्राशय और पेट के कैंसर जैसे जोखिम को कम करने के लिए जाने जाते हैं। 

* हल्दी अदरक

कैंसर के खतरे को कम करने वाले कुछ खाद्य पदार्थ 

हल्दी अदरक जैसे चीजो के सेवन से कैंसर का खतरा बहुत हद तक कम हो जाता है। ताजे अदरक में कैंसर की कोशिकाओ से लड़ने के खास गुण होते हैं और ट्यूमर बढ़ाने की कोशिकाओ को बढ़ने से रोकने में मददगार होते हैं। अदरक का अर्क कीमोथेरेपी, रेडियोथेरेपी से होने वाली परेशानीयो को भी कम कर सकता है।

* पालक

पालक प्रोटीन, आयरन, कैल्शियम, पोटेशियम, मैग्नीशियम, फॉलेट आदि जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होता है। पालक विटामिन A का अच्छा स्रोत माना जाता है जो हमारे शरीर में कैंसर के खतरे को कम करता है। पालक के सेवन से कैंसर, टाइप टू डायबिटीज और अस्थमा जैसी कई घातक बीमारियो के खतरे को कम किया जा सकता है साथ ही पालक के सेवन से डाइजेशन में भी सुधार होता है।

* शकरकंद

शकरकंद में पर्याप्त मात्रा में स्टार्च पाया जाता है शकरकंद में अच्छी मात्रा में प्रोटीन, विटामिन C, विटामिन बी 6, विटामिन A, पोटेशियम और मैंगनीज होता है। शकरकंद को डाइट में शामिल करने से कई तरह के कैंसर के खतरे से निजात मिलता है।

* मटर

मटर में मौजूद प्रोटीन विटामिन A, C और K राइबोफ्लेविन, थियामिन, नियासीन और फोलेट जैसे जैसे पोषक तत्व होते हैं। इसमें मौजूद फाइबर कब्ज की समस्या को दूर करने में मदद करते हैं इसके अलावा डायबिटीज के मरीज और दिल के मरीजो के लिए मटर बहुत हेल्दी होती है।

* हल्दी

सबसे शक्तिशाली प्राकृतिक कैंसर रोधी तत्व होता है हल्दी, जो कैंसर कोशिकाओ को मारकर ट्यूमर बढ़ने नहीं देता साथ ही कीमोथरेपी का असर भी बढ़ाता है। वैसे तो हम हल्दी को सब्जी, दाल आदि के माध्यम से खाते ही हैं लेकिन हल्दी को काली मिर्च तेल के साथ मिलाकर सेवन करना और भी ज्यादा असरदार होता है। 

* लहसुन और प्याज

कैंसर के खतरे को कम करने वाले कुछ खाद्य पदार्थ 

लहसुन और प्याज में मौजूद सल्फर कंपाउंड हमारे शरीर के बरी आंत और प्रोस्टेट कैंसर की कोशिकाओ को मारने में मदद करता है। लहसुन हमारे शरीर के ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता है लहसुन शरीर में ब्लड शुगर को कंट्रोल करके रखता है। साथ ही हमारे हाथ को हेल्दी बनाए रखने और खून में खराब कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने के लिए भी मददगार होता है। यह इंसुलिन उत्पादन को कम करके शरीर में किसी प्रकार की ट्यूमर को जन्म लेने नहीं देता इसीलिए हमेशा लहसुन और प्याज का सेवन करना जरूरी होता है।

* फलिया और दाल

सब्जियो के अलावा फलिया और दाल हमारे शरीर में प्रोटीन का समृद्ध स्रोत स्रोत पैदा करता है। साथ ही हमारे शरीर में फाइबर और कॉलेजन प्रदान करता है जो पैंक्रियास के कैंसर के खतरे को काम कर सकता है। फलियो में प्रतिरोधी स्टार्ट मौजूद होता है जो बड़ी आत की कोशिकाओ के स्वास्थ्य में सुधार करता है। इसीलिए नियमित तौर पर दाल और फलो का सेवन करना हमारे शरीर के लिए जरूरी होता है।

* ऑलिव ऑयल

भूमध्य सागरी आहार में ऑलिव ऑयल एक मुख्य खाद्य तेल है यह तेल कई प्रकार के स्वास्थ्य लाभो से समृद्ध होता है। इसमें ओलिक नाम का तत्व पाया जाता है शरीर में कैंसर उत्पन्न करने वाले जींस को रोकने में यह एक प्राथमिक घटक होता है। रिपोर्ट के अनुसार नियमित तौर पर ऑलिव ऑयल के सेवन से कैंसर जैसी घातक बीमारी से बचा जा सकता है।ऑलिव ऑयल के सेवन से पाचन तंत्र और स्तन कैंसर के खतरे को कम किया जा सकता है।

जो महिलाए हर दिन कम से कम दो कप ग्रीन टी पीती है ऐसी महिलाओ में 32% गर्भाशय कैंसर का खतरा कम हो जाता है। ग्रीन टी में कुछ फ्लेवोनॉइड्स पाए जाते हैं जो शरीर के भीतर कैंसर कोशिकाओं के विकास को कम करने में मदद करते हैंं। ग्रीन टी कैंसर को रोकने वाले एंटीऑक्सीडेंट का सबसे अच्छा स्रोत माना जाता हैै।

वंशानुगत कैंसर के अलावा जीवनशैली में कुछ प्रयोग करके कैंसर जैसी घातक बीमारी को दूर किया जा सकता है। कैंसर से बचाने वाले खाद्य पदार्थो के सेवन के अलावा कुछ खास बचाव करना चाहिए जैसे कि हमें अपने वजन का ध्यान रखना चाहिए। जरूरत से ज्यादा वजन वालो को गुर्दे, पित्ताशय, थायराइड और कोलोन कैंसर जैसे खतरे हो सकते हैं।

Jhuma Ray
नमस्कार! मेरा नाम Jhuma Ray है। Writting मेरी Hobby या शौक नही, बल्कि मेरा जुनून है । नए नए विषयों पर Research करना और बेहतर से बेहतर जानकारियां निकालकर, उन्हों शब्दों से सजाना मुझे पसंद है। कृपया, आप लोग मेरे Articles को पढ़े और कोई भी सवाल या सुझाव हो तो निसंकोच मुझसे संपर्क करें। मैं अपने Readers के साथ एक खास रिश्ता बनाना चाहती हूँ। आशा है, आप लोग इसमें मेरा पूरा साथ देंगे।

Leave a Reply Cancel reply

error: Content is protected !!