Homeहिन्दीजानकारीशनिदेव के प्रकोप से चाहते हैं बचना तो न करें ये काम...

शनिदेव के प्रकोप से चाहते हैं बचना तो न करें ये काम साथ ही जानिए ऐसी 3 राशिया जिन पर शनिदेव की हो रही है विशेष कृपया 

शनिवार का दिन शनिदेव को समर्पित होता है, जिस दिन शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए कई प्रकार के उपाय किए जाते हैं। शनिदेव व्यक्ति को उनके कर्मो के आधार पर शुभ और अशुभ दोनो प्रकार के फल देते हैं। जिन जातको की कुंडली में शनि गलत भाव में बैठते हैं उनको जीवन में कई प्रकार की परेशानियो का सामना करना पड़ता है।लेकिन कुंडली में शनि के शुभ स्थान पर होने से व्यक्ति को भाग्यशाली और धनवान बना देते हैं। कुंडली में शनि के मजबूत होने पर जातकों को सभी प्रकार की सुख सुविधा मिलती है। 

वैदिक ज्योतिष शास्त्र के अनुसार भगवान शनि साल के कुछ विषेश तिथियो पर कुछ विशेष राशियो पर विशेष प्रकार कृपा करते हैं। उन दिनों उन राशियो पर शनि देव की कृपा होती है, उन्हें शनिदेव का आशीर्वाद मिल जाता है और उनके जीवन में सभी प्रकार के काम बनते चले जाते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनि देव व्यक्ति को व्यक्ति द्वारा किए गए कर्मों के आधार पर शुभ या अशुभ फल देते हैं। शनि की महादशा साढ़ेसाती और अशुभ विचार व्यक्ति के जीवन में परेशानिया बनाती है। 

ऐसी मान्यता है कि शनिदेव जिस किसी पर भी अपनी गलत दृष्टि डालते हैं उसके सारे काम बिगड़ने लगते हैं।ऐसे में व्यक्ति को कई प्रकार आर्थिक परेशानिया और बीमारिया घेर लेती है लेकिन वहीं अगर शुभ छाया पड़ जाए तो व्यक्ति राजा की तरह जीवन में आगे बढ़ते चला जाता है और सुखी जीवन प्राप्त कर लेता है।ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनिदेव जिन लोगो पर प्रसन्न रहते हैं उन पर कभी भी उनकी बुरी छाया या साढ़ेसाती नहीं पढ़ती। 

ज्योतिष के अनुसार व्यक्ति द्वारा किए गए कुछ कर्म गलत और अच्छे होते हैं इसी आधार पर शनिदेव लोगो पर प्रसन्न और मेहरबान होते हैं। भगवान शनि न्याय प्रिय और कर्म के आधार पर फल देने वाले देवता हैं सभी ग्रह में शनि देव सबसे धीमी चाल से चलने वाले ग्रह हैं। शनिदेव उन लोगो को ज्यादा कष्ट नहीं देते जो मेहनती होते हैं। मेहनत करने वाले जातको पर भगवान शनि साढ़ेसाती लगने के बावजूद भी उन्हें ज्यादा कष्ट नहीं पहुंचाते।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनिदेव ऐसे जातको को ज्यादा कष्ट नहीं देते जो हमेशा अपने नाखून को साफ सुथरा रखते हैं। ज्योतिष के अनुसार जो लोग हमेशा अपने नाखूनो को दांतो से चबाते हैं उन पर शनि की अशुभ छाया हमेशा छाई रहती है। इसीलिए शनि दोष से बचने के लिए अपने नाखूनो को साफ करते रहिए और कभी भी उसे मुंह से ना चबाए।

भगवान शनिदेव की कृपया पानी के लिए यह जान लें कि गरीबो और असहायो की मदत जरूर करें। शनि देव न्याय के देवता है यानी जो लोग हमेशा सच बोलते हैं न्याय का साथ देते हैं उन पर हमेशा शनिदेव की विशेष कृपा रहती है। जो लोग गरीबो और असहायो की मदद करते हैं उन पर शनिदेव की कभी भी अशुभ छाया नहीं पड़ती।

शनिदेव के प्रकोप से चाहते हैं बचना तो न करें ये काम साथ ही जानिए ऐसी 3 राशिया जिन पर शनिदेव की हो रही है विशेष कृपया 

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनि देव ढाई साल पर अपनी राशि परिवर्तन करते हैंं, हालांकि कुछ विशेष परिस्थिति में समय के पहले भी शनि का गोचर होता है। ज्योतिष के अनुसार बीते 12 जुलाई साल 2022 से शनि देव मकर राशि में वक्री अवस्था में विराजमान हैै। इस स्थिति में 23 अक्टूबर साल 2022 तक शनिदेव इसी अवस्था में रहने वाले हैं जिस दौरान शनिदेव 3 राशि वालो की कुंडली में महापुरुष राजयोग बना रहे हैं।

ज्योतिष शास्त्र के जानकारो का मानना है कि यह राजयोग जिनकी कुंडली में बनता है, उनके लिए यह बेहद शुभ फलदाई साबित होता है। तो आइए ज्योतिष गणना के मुताबिक जानते हैं शनिदेव के द्वारा निर्मित महापुरुष राजयोग किन तीन राशियो के लिए खास माने जा रहे हैंं।

मिथुन राशि

शनि देव के द्वारा निर्मित महापुरुष योग के प्रभाव से मिथुन राशि वाले जातको के करियर और रोजगार में जबरदस्त सफलता प्राप्त हो सकती है। इस राशि के जातक जो बिजनेस से जुड़े हुए हैं उन पर शनिदेव की विशेष कृपया होने वाली है। साल 2022 यानी इस साल के अक्टूबर महीने की अवधि में बिजनेस में भारी मुनाफा हो सकता है। 

ऐसे जातको को भारी मुनाफा प्राप्त हो सकता है तो वही राजनैतिक करियर में भी तरक्की मिल सकती है। कारोबार में अन्य स्रोत से आर्थिक लाभ का भी योग बन रहा है साथ ही विदेश से जुड़े कार्यो में भी मिथुन राशि के जातको को लाभ प्राप्त हो सकता है। इसके अलावा नई नौकरी पाने वालो को भी नए रोजगार के प्रस्ताव मिल सकते हैं।

मेष राशि

भगवान शनिदेव की कृपया होने वाले राशियो में मेष राशि भी शामिल है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार महापुरुष योग मेष राशि के लिए बेहद शुभ साबित होगा। इस योग के शुभ प्रभाव से आकस्मिक धन लाभ के योग बन रहे हैं जो लोग राजनीति में है उन्हें इस योग का विशेष लाभ प्राप्त होगा। साथ ही इस दौर में नई नौकरी पाने के ऑफर भी मिल सकते हैं इसके अलावा जो लोग नौकरी से जुड़े हुए हैं उन्हें प्रमोशन भी मिल सकता है, कुल मिलाकर अक्टूबर तक का समय विशेष लाभकारी होने वाला है।

कन्या राशि

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सनी का यह राजयोग कन्या राशि वालो को अचानक लाभ दे सकता है। सभी कार्यो में सफलता प्राप्त हो सकती है रुके हुए कार्यो में भी प्रगति मिल सकती है। प्रतियोगी परीक्षा में भाग ले रहे कन्या राशि के जातको को अचानक सफलता मिल सकती है यात्रा के लिए भी धन प्राप्त होने के योग बन रहे हैं।

शनिदेव के प्रकोप से चाहते हैं बचना तो न करें ये काम साथ ही जानिए ऐसी 3 राशिया जिन पर शनिदेव की हो रही है विशेष कृपया 

इन तीन राशियो पर भगवान शनिदेव की जुलाई से लेकर अक्टूबर तक कृपा बरसेगी। लेकिन कहा जाता है कि तीन राशियां ऐसी भी हैं जिन पर शनिदेव की कृपया हमेशा रहती है और उन पर कभी भी शनिदेव अशुभ प्रभाव नहीं डालते। इस राशि के क्रम में तुला राशि, कुंभ राशि, मकर राशि है। 

तुला राशि 

तुला राशि शनि देव की प्रिय राशि में से किस राशि के स्वामी शुक्र देव होते हैं या राशि प्रभावशाली व्यक्तित्व के स्वामी होते हैं इस राशि के जातक कर्मठ और ईमानदार होते हैं इस राशि पर शनि देव हमेशा प्रसन्न रहते हैं शनिदेव इन पर विशेष कृपया बरसाते हैं और शनि देव की कृपया होने के कारण इनका भाग हमेशा उनका साथ देता है इस राशि के स्वामी शुक्र होने के कारण इनका स्वप जीवन सुख संपन्नता और विलासिता पूर्वक बीतता है ऐसे में इस राशि के लोगो को शनिदेव की पूजा अवश्य करनी चाहिए।

कुंभ राशि

दूसरी राशि है कुंभ राशि कुंभ राशि के जातको पर भी शनिदेव का आशीर्वाद हमेशा रहता है। इस राशि के स्वामी भी शनि देव होते हैं इस कारण सनी इस राशि पर हमेशा सहाय रहते हैं। इस राशि के जातको का व्यक्तित्व गरीबो और असहायो की मदद करना होता है और इस कारण सनी देव कुंभ राशि के जातको पर प्रसन्न रहते हैं। शनिदेव ऐसे जातको का जीवन हमेशा कष्ट विहीन बनाने में मदद करते हैं इस राशि के जातक धनवान और मान सम्मान प्राप्त करने वाले होतेे हैं ।

मकर राशि

शनि देव हमेशा मकर राशि के जातको पर मेहरबान रहते हैं शनिदेव दो राशियो के स्वामी है कुंभ और दूसरी मकर राशि। इस राशि के जातको पर शनिदेव की कृपय बरसती है जिस इनके जीवन में हर प्रकार का सुख प्राप्त होता है। मकर राशि के जातक बहुत ही भाग्यशाली होते हैं और इनका कोई भी काम बिना किसी बाधा से पूर्ण हो जाता है।

Jhuma Ray
नमस्कार! मेरा नाम Jhuma Ray है। Writting मेरी Hobby या शौक नही, बल्कि मेरा जुनून है । नए नए विषयों पर Research करना और बेहतर से बेहतर जानकारियां निकालकर, उन्हों शब्दों से सजाना मुझे पसंद है। कृपया, आप लोग मेरे Articles को पढ़े और कोई भी सवाल या सुझाव हो तो निसंकोच मुझसे संपर्क करें। मैं अपने Readers के साथ एक खास रिश्ता बनाना चाहती हूँ। आशा है, आप लोग इसमें मेरा पूरा साथ देंगे।

Leave a Reply Cancel reply

error: Content is protected !!