Homeहिन्दीजानकारीलता मंगेशकर जी का राजकीय सम्मान से हुआ अंतिम संस्कार दो दिनो तक...

लता मंगेशकर जी का राजकीय सम्मान से हुआ अंतिम संस्कार दो दिनो तक राष्ट्रीय शोक की घोषणा

स्वर कोकिला कही जाने वाली संगीत जगत की सिरमोर व भारत रत्न से सम्मानित लता मंगेशकर का आज 6 फरवरी को निधन हो गया। उनका निधन सभी भारत वासियों के लिए बेहद दुखद है क्योंकी उनका निधन इस देश के लिए वह क्षति है जिसे कभी भरा नहीं जा सकता। वे सभी संगीत साधको के लिए हमेशा से प्रेरणा रही थी उन्होंने 30 हजार से भी अधिक गाने गाकर संगीत की दुनिया को सुरो से नवाजा है। 

लता मंगेशकर का निधन दुनियााभर के लाखो लोगो के लिए बेहद दुखद है। उनके सभी गीत विशाल शृंखला में भारत क सार और सुंदरता को पुरस्कृत किया है। देश की कई पीढ़ियो ने उनके गीतो से अपने आंतरिक भावनाओं की अभिव्यक्ति पाई है उनकी उपलब्धिया हमेशा ही अतुलनिय रहेगी।

लता मंगेशकर बेहद शांत स्वभाव और प्रतिभा की धनी थी लेकिन आज 92 साल की उम्र में लता मंगेशकर ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया। दरअसल वह पिछले दिनो कोरोना से संक्रमित पाई गई थी जिसके बाद उन्हें मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां उन्होंने अपनी अंतिम सांसे ली। 

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा

लता मंगेशकर के मृत्यु होने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करके कहा कि “मेरा दुख शब्दो से परे है, दयालु और देखभाल करने वाली लता दीदी आज हमें छोड़ कर चली गई। वह हमारे देश में एक खालीपन छोड़ गई है जिसकी कभी भरापाई नहीं हो सकती। लेकिन आने वाली पीढ़ी उन्हें भारतीय संस्कृति के एक दिवस के रूप में हमेशा याद रखेगा। जिनकी सुरीली आवाज में लोगो को मंत्रमुग्ध करने का अद्वितीय क्षमता था।

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि लता मंगेशकर के गानो ने कई प्रकार की इमोशंस को उभाड़ा है। उन्होंने कई दशको तक भारतीय फिल्म जगत के बदलाव को करीब से देखा है। फिल्मी जगत से परे वह हमेशा भारत देश के विकास के बारे में भावुक रहती थी। वह हमेशा से ही एक मजबूत और विकसित भारत देखना चाहती थी। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि मैं इसे अपना सम्मान समझता हूं कि मुझे हमेशा लता दीदी से अपार स्नेह मिला है। उनके साथ मेरी बातचीत अविस्मरणीय रहेगी लता दीदी के निधन पर मुझे अपने साथी भारतीयो के साथ बहुत शौक है।

राजनाथ सिंह और अमित शाह ने जताया दुख

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट करके कहा कि “स्वर कोकिला लता मंगेशकर जी के निधन से भारत की आवाज खो गई है। उनके गाए हुए गीतो को भारत की कई पीढ़ियो ने सुना और गुनगुनाया है। उनका निधन देश की कला व संस्कृति जगत के लिए बहुत बड़ी क्षति है, उनके परिवार और प्रशंसको को मेरी  संवेदनाएं हैं। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि सुर और संगीत की पूरक लता दीदी ने अपने सुरो से न केवल भारत बल्कि पूरे विश्व में हर पीढ़ी के जीवन को भारतीय संगीत की मिठास से रंगीन बनाया है।

नितिन गडकरी ने कहा

लता मंगेशकर के निधन पर नितिन गडकरी ने कहा देश की शान और संगीत जगत की स्वर कोकिला कही जाने वाली लता मंगेशकर जी का निधन बेहद दुखद है। उनके पुण्य आत्मा को मेरी भावपुर्ण श्रद्धांजलि उनका निधन हमारे देश के लिए बड़ी क्षति है।

लता मंगेशकर जी का राजकीय सम्मान से हुआ अंतिम संस्कार दो दिनो तक राष्ट्रीय शोक की घोषणा

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि सभी देशवासियो की तरह मेरे लिए भी उनका संगीत बेहद प्रिय रहा है। मुझे जब भी समय मिलता था तो मैं उनके द्वारा गाए गए नगमे जरूर सुनता हूं। ईश्वर उनकी दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करें और उनके परिजनो को सांत्वना दें।

राहुल गांधी ने कहा

राहुल गांधी ने कहा “लता मंगेशकर के निधन की दुखद खबर मिली वह कई दशको तक भारत की सबसे प्रिय आवाज बनी रही। उनकी सुनहरी आवाज हमेशा अमर है और उनके प्रशंसको के दिलो में हमेशा उनकी आवाज गूंजती रहेगी। मेरी संवेदनाएं उनके परिवार, दोस्त और उनके सभी फैन के साथ है।

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट करके कहा कि “स्वर कोकिला भारत रत्न आदरणीय लता मंगेशकर जी का निधन अत्यंत दुखद और कला जगत के लिए अपूरणीय क्षति है। प्रभु श्रीराम से यह प्रार्थना है कि उनकी पुण्यआत्मा को श्री राम के चरणो में स्थान मिले तथा शोकाकुल परिजनो व उनके असंख्य प्रशंसको को इस दुख को सहने की शक्ति प्रदान करें।

राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

लता मंगेशकर जी के निधन के बाद उनका पार्थिव शरीर आज उनके पेद्दार रोड स्थित आवास प्रभु कुंज में दोपहर 12:00 से 3:00 तक रखा गया जिसके बाद उन्हें 4:30 बजे शिवाजी पार्क में लाया गया। शिवाजी पार्क में ही शाम को पूरे राजकीय सम्मान से उनका अंतिम संस्कार किया गया।

राष्ट्रीय शोक की घोषणा

केंद्र सरकार ने लता मंगेशकर के निधन पर 2 दिन के लिए राष्ट्रीय शोक का ऐलान किया है। उनके सम्मान में राष्ट्रीय ध्वज को दो दिनो तक आधा झुकाए रखने का ऐलान किया गया है।

Jhuma Ray
नमस्कार! मेरा नाम Jhuma Ray है। Writting मेरी Hobby या शौक नही, बल्कि मेरा जुनून है । नए नए विषयों पर Research करना और बेहतर से बेहतर जानकारियां निकालकर, उन्हों शब्दों से सजाना मुझे पसंद है। कृपया, आप लोग मेरे Articles को पढ़े और कोई भी सवाल या सुझाव हो तो निसंकोच मुझसे संपर्क करें। मैं अपने Readers के साथ एक खास रिश्ता बनाना चाहती हूँ। आशा है, आप लोग इसमें मेरा पूरा साथ देंगे।

Leave a Reply Cancel reply

error: Content is protected !!