Homeहिन्दीजानकारीवित्तीय वर्ष साल 2022-23 के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पेश किया देश का...

वित्तीय वर्ष साल 2022-23 के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पेश किया देश का बजट 

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संसद में 90 मिनट का बजट भाषण पेश किया इस भाषण में उन्होंने साल 2022-23 के आम बजट भाषण में इस बात को याद दिलाया कि केंद्र एवं राज्य सरकारो के सफल प्रयासो के कारण रोजगार और एवं उद्यम अवसरो में वृद्धि हो रही है।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक ग्रोथ ओरिएंटेड बजट पेश किया। जिसके बाद उन्होंने रोजगार, मकान और शिक्षा आदि के संबंध में कई बड़ी घोषणा की और इस बार फिर से आयकर में कोई छूट नहीं दी गई है। वित्त मंत्री ने इस बजट में युवाओ के लिए 60 लाख नौकरियो के अवसर तैयार करने का वादा किया है। वित्त मंत्री ने कहा कि इस बजट से अगले 25 साल की बुनियाद रखी जाएगी।

वित्त मंत्री ने गिनाए विकास के चार पिलर

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के बजट में विकास के चार पिलर प्रोडक्टिविटी, इन्वेस्टमेंट, और पीएम गति शक्ति योजना पर फोकस किया गया है। प्राइवेट इन्वेस्टमेंट और विकास के क्षेत्र में बढ़ावा देने के लिए बजट में पूंजीगत खर्च को 35. 4 प्रतिशत से बढ़ाकर 7. 50 लाख करोड रुपए किया गया है। बजट के इस घोषणा से एक्सपर्ट्स बेहद खुश है क्योंकि उनका यह मानना है कि इंफ्रास्ट्रक्चर पर जोर और कैपिटल एक्सपेंडिचर का विस्तार आगे बढ़ाने का रास्ता खुल गया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने ऐलान किया है कि वित्तीय वर्ष 2022 -23 के दौरान रिजर्व बैंक डिजिटल करेंसी की शुरुआत करेगी। 

निर्मला सीतारमण ने वर्चुअल डिजिटल एसेट्स, क्रिप्टो करेंसी और NFT से होने वाली आय पर 30% की दर से भारी भरकम टैक्स लगाने का भी ऐलान किया है। वित्त मंत्री ने आज अपने बजट भाषण में ऐलान किया कि वित्तीय वर्ष साल 2022 के दौरान भारतीय रिजर्व बैंक डिजिटल करेंसी की शुरुआत करेंगीी। इस डिजिटल करेंसी को निर्मला सीतारमण ने अपने भाषण में डिजिटल रूपि यानी डिजिटल रुपया कहां हैै।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि अपने बजट में इनकम टैक्स चुकाने वाले करदाताओ को कोई राहत नहीं दी है, ना ही पर्सनल इनकम टैक्स की दरो में कोई रियायत दी है और ना ही आयकर के स्लैब में किसी प्रकार बदलाव किया गया है।

शिक्षा के क्षेत्र में डिजिटल यूनिवर्सिटी

इसके अलावा देश में शिक्षा प्रदान करने के लिए एक डिजिटल यूनिवर्सिटी के गठन का प्रस्ताव रखते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि इसका निर्माण हब और स्पोक मॉडल के आधार पर किया जाएगा। 

कैपिटल गुड्स इंपोर्ट पर लगी छुट हट गई

कैपिटल गुड्स पर इंपोर्ट ड्यूटी में मिल रही छुट हटाई गई है। कैपिटल गुड्स इंपोर्ट पर अब 7. 5% की दर से इंपोर्ट ड्यूटी लगेगी। 

किसी भी LTCG टैक्स पर 15 प्रतिशत से ज्यादा सरचार्ज नहीं लगाया जा सकता। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का कहना है कि कोऑपरेटिव सोसायटी जिनकी आमदनी एक से ₹10 करोड़ के बीच है उन पर सर चार्ज को 12 से घटाकर 7 प्रतिशत किया गया है।

डिफेंस सेक्टर के लिए बड़ा ऐलान

इसके अलावा डिफेंस सेक्टर के लिए भी एक बड़ा ऐलान किया गया है डिफेंस सेक्टर के लिए यह ऐलान किया गया है कि डिफेंस सेक्टर कैपेक्स का 68 प्रतिशत हिस्सा भारतीय कंपनियो के लिए सुरक्षित होगा।

ST, SC किसानो को एग्रोफोरेस्ट्री के लिए मदद

PM e विद्या के वन क्लास वन TV चैनल प्रोग्राम को 12 से बढ़ाकर 200 TV चैनलो तक विस्तृत किया जाएगा। सभी राज्यो को इससे क्लास 1 से 12 तक क्षेत्रीय भाषाओ में पूरक शिक्षा देने में मदद मिलेगी।सभी राज्यो के कृषि विश्वविद्यालयो का पाठ्यक्रम संशोधित करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।ताकि प्राकृतिक जीरो बजट और ऑर्गेनिक फार्मिंग के साथ आधुनिक तौर-तरीके से आधुनिक दौर की खेती की जरूरतों को पूरा किया जा सके। तो वही ST, SC किसानो को एग्रोफोरेस्ट्री के लिए मदद प्रदान की जाएगी।

एक प्रतिशत का TDS

यह भी घोषणा किया गया है कि वर्चुअल डिजिटल एसेट्स पर 30 प्रतिशत टैक्स लगेगा। वर्चुअल डिजिटल एसेट्स के ट्रांसफर से होने वाले किसी भी कमाई पर 30 प्रतिशत की दर से टैक्स का भुगतान करना होगा। वर्चुअल डिजिटल एसेट्स के ट्रांसफर पर होने वाले नुकसान को सेट-ऑफ नहीं किया जाएगा।वर्चुअल डिजिटल एसेट्स से ट्रांसफर पर एक प्रतिशत का TDS भी लगाया जाएगा।

डिजिटल रुपए की शुरुआत 

राज्य कर्मचारियो के लिए NPS पर टैक्स राहत की सीमा 10 प्रतिशत से बढ़ाकर 14 प्रतिशत की जा रही है।  वित्त वर्ष 2021 -22 में राजकोषीय घाटा GDP के 6.9% के बराबर हो रहेगा जहां पहले 6. 8% रहने का अनुमान था। वित्त वर्ष 2022-23 में राजकोषीय घाटा GDP के 6.4 % के बराबर रहने का अनुमान लगाया गया हैै।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्त वर्ष 2022-23 के दौरान देश में डिजिटल रुपए की शुरुआत किए जाने का ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि रिजर्व बैंक द्वारा “डिजिटल रुपए” की शुरुआत करने से देश के करेंसी मैनेजमेंट में काफी सुधार होगा।

5G के लिए स्पेक्ट्रम ऑक्शन

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि साल 2022 में 5G के लिए स्पेक्ट्रम ऑक्शन किया जाएगा। गांवो में ब्रॉडबैंड सर्विस मुहैरा करवाने के लिए इंफ्रास्टाक्चर डेवलप किया जाएगा। और टेलीकॉम सेक्टर में नई नौकरी के अवसर ढूंढे जागेंगे।

रेलवे के क्षेत्र में भी किए गए नए ऐलान

इसके अलावा गति शक्ति योजना के तहत वित्त मंत्री ने रेलवे के लिए भी ऐलान किए हैं। अगले 3 सालो में नई पीढ़ी के 100 सौ वंदे भारत ट्रेने विकसित की जाएगी। वहीं इस दौरान 100 नए कार्गो टर्मिनल भी बनाए जाएंगे। स्थानीय कारोबार को बढ़ावा देने के लिए एक स्टेशन, एक उत्पाद, की सोच को बढ़ावा दिया जाएगा और रेलवे का विस्तार PPP मॉडल से होगा।

आवास योजना के लिए आबंटित करोड़ो रूपए

वित्त मंत्री ने कहा कि पीएम आवास योजना के लिए 48 हजार करोड़ आवंटित किए गए हैं इस योजना के तहत 80 लाख नए मकान बनाए जाएंगे। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पूर्वोत्तर के विकास के लिए इस बजट में ₹1500 करोड़ रुपए आबंटित किए हैं।

PLI स्कीम को मिली अच्छी सफलता

निर्मला सीतारमण के अनुसार PLI स्कीम को अच्छी सफलता मिली है। इससे अगले 5 साल में 60 लाख नई नौकरिया होने पैदा होने की संभावना है। इसके अलावा 30 लाख करोड़ के अतिरिक्त प्रोडक्शन की भी उम्मीद है।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट के दौरान विकास के चार पिलर गिनाए हैैं इसमें एक साल में 25 हजार किलोमीटर हाईवे बनाना, हेल्थ इंफ्रा को मजबूत करना, 25 साल के लिए ग्रोथ का ब्लूप्रिंट तैयार करना शामिल है। उनके अनुसार देश का ग्रोथ सभी अर्थव्यवस्थाओ में सबसे ज्यादा रहने का अनुमान लगाया गया है।

20 हजार करोड़ का खर्च किया जाएगा

वित्त मंत्री ने कहा कि 100 गतिशक्ति टर्मिनल बनाए जाएंगे इसके अलावा हाईवे विस्तार पर 20 हजार करोड़ खर्च भी किया जाएगा। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि यह बजट केवल 1 या 2 साल के लिए रोडमैप पर नहीं बल्कि इसमें अगले 25 साल के लिए ग्रोथ का ब्लूप्रिंट तैयार किया गया हैै। इस वजह से देश के विकास को प्रोत्साहन मिलेगा और ज्यादा से ज्यादा नौकरियां पैदा होगी।

वित्त मंत्री का कहना है कि युवाओ पर सरकार का फोकस है 30 लाख अतिरिक्त नौकरी देने की क्षमता है और इसके लिए सरकार पूरी क्षमता के साथ काम कर रही हैं।

Jhuma Ray
नमस्कार! मेरा नाम Jhuma Ray है। Writting मेरी Hobby या शौक नही, बल्कि मेरा जुनून है । नए नए विषयों पर Research करना और बेहतर से बेहतर जानकारियां निकालकर, उन्हों शब्दों से सजाना मुझे पसंद है। कृपया, आप लोग मेरे Articles को पढ़े और कोई भी सवाल या सुझाव हो तो निसंकोच मुझसे संपर्क करें। मैं अपने Readers के साथ एक खास रिश्ता बनाना चाहती हूँ। आशा है, आप लोग इसमें मेरा पूरा साथ देंगे।

Leave a Reply Cancel reply

error: Content is protected !!