Homeहिन्दीजानकारी"Dhanteras 2021" धनतेरस के शुभ अवसर पर क्या खरीदे और क्या नहीं

“Dhanteras 2021” धनतेरस के शुभ अवसर पर क्या खरीदे और क्या नहीं

हिंदू धर्म में आने वाला कार्तिक मास पूजा पाठ का महीना माना जाता है। इस महीने में साल भर के कई त्यौहार इसी महीने में पढ़ते हैं कार्तिक महीने के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि के दिन धन तेवता धन देवता के आगमन कराने वाले धनतेरस का त्यौहार शुभ त्यौहार मनाया जाता है और धनतेरस की शुरुआत होने से ही दिपावली, भाई दूज, छठ पर्व जैसे सभी पूजा पाटो की शुरुआत होती जाती है। 

धनतेरस साल 2021 तिथि और शुभ मुहूर्त

इस साल धनतेरस 2 नवंबर मंगलवार के दिन मनाया जाएगा धनतेरस पूजा मुहूर्त शाम को 6:18 से लेकर रात 8:11 तक रहेगा। 
दीपावली से ठीक 2 दिन पहले होने वाले धनतेरस के त्यौहार को लोग काफी धूमधाम से खरीदारी करके मनाते हैं। इस दिन गहने बर्तन जैसे छोटी चीज से लेकर बड़ी से बड़ी कीमती चीजें खरीदी जाती है।

तो चलिए जानते हैं कुछ ऐसी चीजो के बारे में जो धनतेरस पर खरीदना काफी शुभ होता है। 

* धनतेरस पर अवश्य खरीदें झाड़ू

हिंदू धर्म में झाड़ू को माता लक्ष्मी का प्रतीक माना जाता है और इसीलिए इस दिन झाड़ू खरीदना सबसे महत्वपूर्ण होता है। आप किसी प्रकार बड़ा चीज खरीदे या ना खरीदे, लेकिन इस दिन झाड़ू अवश्य खरीदें।  झाड़ू में माता लक्ष्मी जी का वास माना जाता है और इस दिन झाड़ू खरीदने से घर की दरिद्रता और आर्थिक संकट दूर होता है। 

* धनतेरस पर खरीदें धनिया के बीज

धनतेरस पर जरूर खरीदने चाहिए धनिया के बीज धनतेरस के दिन धनिया के बीज खरीदने की काफी पुरानी परंपरा है। इस दिन  धनिया  खरीदने से घर में सुख समृद्धि आती है  क्योंकि धनिया समृद्धि का प्रतीक माना जाता है। इस दिन पूजा के समय माता लक्ष्मी को धनिए के बीच अर्पित करके उन बीजो को हमेशा के लिए तिजोरी में रखने से घर में बरकत होती है। 

* व्यवसाय से संबंधित सामग्री 

व्यवसाय से संबंधित सामान धनतेरस के दिन आप अपने व्यवसाय से संबंधित कोई भी सामान जैसे कि राइटर पेन आर्टिस्ट ब्रश स्टूडेंट के लिए कॉपी किताब आदि खरीद सकते हैं मान्यता के अनुसार इस दिन इन सब की पूजा भी करनी चाहिए बिजनेसमैन को इस दिन बहीखाता के रजिस्टर अकाउंट बनाकर पश्चिम दिशा में रखनी चाहिए

* इलेक्ट्रॉनिक आइटम्स

धनतेरस पर इलेक्ट्रॉनिक आइटम्स खरीदना भी काफी शुभ माना जाता है धनतेरस के दिन इलेक्ट्रॉनिक आइटम खरीदना खरीदने से खरीदना चाहिए जैसे कि वह 1:00 प्लीज मोबाइल फोन लैपटॉप इत्यादि को खरीदकर घर के धार्मिक उत्तर पूर्व दिशा में रखने से धन वृद्धि होती है घर में सुख शांति और बढ़ोतरी होती है। 

* गोमती चक्र

धनतेरस के दिन सेहतमंद और संपन्नता के लिए 11 गोमती चक्र खरीदने की सलाह दी जाती है, इस दिन गोमती चक्र खरीदना बेहद शुभ होता है। इस दिन गोमती चक्र खरीदकर किसी पीले वस्त्र में बांधकर तिजोरी या फिर लॉकर में रखने से लाभ होता है।

* सोने के सिक्के

सोने के सिक्के माता लक्ष्मी के चित्र बने हुए सोने का सिक्का खरीदना भी काफी लाभदायक होता है। धनतेरस पर खरीदना काफी लाभदायक होता है बर्तन धनतेरस के दिन पीतल के बर्तन खरीदना काफी शुभ होता है इसे घर के पूर्व दिशा में रखने से मंद रखने से काफी फायदे मिलते हैं यही नहीं सोना चांदी भी इस दिन सोना चांदी भी बहुत मात्रा में खरीदी जाती है।

* चांदी के सिक्के

चांदी के सिक्के अगर आप सोने के सिक्के नहीं खरीद पाते हैं तो आप चांदी के सिक्के भी खरीद सकते हैं। इससे माता लक्ष्मी का आशीर्वाद आप पर हमेशा के लिए बनी रहेगी। धनतेरस के दिन किसी भी प्रकार के गहने आभूषण खरीदना भी काफी शुभ माना जाता है। यही नहीं इस दिन घर के मुख्य द्वार पर स्वास्तिक का चिन्ह बनाने से सुख सौभाग्य में वृद्धि होती है।

अगर धनतेरस के दिन आप इन चीजों में से कोई भी एक चीज खरीदते हैं तो पूरे साल माता लक्ष्मी की कृपा आपके घर पर हमेशा बनी रहेगी। और इसीलिए हिन्दू धर्म में धनतेरस आते ही लोगो की खरीदारी की पूरी लिस्ट तैयार हो जाती है। 

धनतेरस का महत्त्व

कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी के दिन धनतेरस मनाई जाती है इस दिन खरीदारी की परंपरा काफी पुराने समय से चली आ रही है। इस बार धनतेरस 2 नवंबर के दिन मनाई जाएगी इस दिन धन की देवी धनवंतरी और धन देवता कुबेर देव की पूजा अर्चना करने का पारंपरिक विधान चली आ रही है। कहा जाता है कि इस दिन धन्वंतरि भगवान समुद्र मंथन के दौरान हाथ में कलश लेकर प्रकट हुए थे। यही नहीं इस दिन माता लक्ष्मी की पूजा और यम के नाम का दिया भी जलाया जाता है। 

“Dhanteras 2021″& धनतेरस के & शुभ अवसर पर क्या खरीदे और क्या नहीं

दरअसल यह धनतेरस इसीलिए इतना शुभ होता है क्योंकि इस दिन धन त्रयोदशी की तिथि में भगवान धन्वंतरि का जन्म हुआ था इसीलिए इस दिन को धनतेरस के रूप में जाना जाता है। और इस तिथि पर खरीदारी करने की तो पौराणिक परंपरा चली आ रही है, इस दिन सोना, चांदी, बर्तन, कपड़े, गहने, वाहन आदि जैसी सभी प्रकार की चीजे खरीदी जाती है। कहा जाता है कि इस दिन जिस भी चीज़ की खरीदारी होती है वह काफी शुभ होता है इससे बेहद शुभ फल मिलता है। 

भगवान धन्वंतरि के पूजन का महत्व 

शास्त्रों के अनुसार कहा जाता है कि समुद्र मंथन के दौरान त्रयोदशी तिथि पर भगवान धन्वंतरि प्रकट हुए थे, इसीलिए इस दिन को त्रयोदशी कहा जाता है। धन और वैभव देने वाले इस त्रयोदशी तिथि का विशेष महत्व माना जाता है। कहा जाता है कि समुद्र मंथन के समय बेहद दुर्लभ और कीमती वस्तुओं के अलावा शरद पूर्णिमा के चंद्रमा कार्तिक द्वादशी के दिन कामधेनु गाय, त्रयोदशी को धन्वंतरि और कार्तिक मास की अमावस्या तिथि को माता लक्ष्मी जी का समुद्र मंथन से अवतरण हुआ था और यही कारण है कि दीपावली के दिन माता लक्ष्मी जी का पूजन और उनके उसके 2 दिन पहले त्रयोदशी पर भगवान धनवंतरी जी के जन्म दिवस को धनतेरस के रूप में मनाया जाता है। 

धनतेरस पर पीतल का महत्व 

दरअसल भगवान धन्वंतरि को पीतल बेहद प्रिय है। भगवान धन्वंतरि को नारायण भगवान विष्णु का ही एक रूप माना जाता है इनकी चार भुजाएं हैं जिनमें दो भुजाओं में वे शंख और चक्र धारण किए हुए रहते हैं। दूसरी दो भुजाओ में औषधि के साथ भी अमृत के कलश लिए होते हैं। मान्यता है कि अमृत कलश पीतल का बना है क्योंकि पीतल भगवान धन्वंतरी की प्रिय धातु है। मान्यता के अनुसार इस दिन खरीदी गई कोई भी वस्तु शुभ फल प्रदान करता है और लंबे समय तक चलती है। लेकिन अगर इस दिन पीतल की खरीदारी की जाए तो व्यक्ति को इसका 13 गुना अधिक लाभ प्राप्त होता है। 

इसलिए इस दिन पीतल का बेहद महत्व होता है पीतल का निर्माण तांबा और जस्ता धातुओ के मिश्रण से होता है। सनातन हिंदू धर्म में पूजा वाटर धार्मिक किसी भी काम के लिए पीतल के बर्तन का ही उपयोग करना बेहद शुभ फलदाई माना जाता है। महाभारत में भी ऐसा ही एक किस्सा  वर्णित है कि सूर्य देव द्रोपति माता को पीतल का अक्षर प्राप्त पात्र वरदान स्वरूप दिया गया था। जिसकी विशेषता यह थी कि द्रोपति चाहे जितने ही लोगो को भोजन क्यों ना करा दें खाना कभी घटेगा नहीं।

जिस प्रकार धनतेरस पर कुछ सामग्री खरीदने से हमेशा घर में बरकत आती है उसी प्रकार कुछ और ऐसी सामग्री है जो धनतेरस के अवसर पर भूल कर भी नहीं खरीदनी चाहिए।

धनतेरस के शुभ दिन पर भूल कर भी न खरीदे ये चीज़  

* नुखीली या फिर धारदार वस्तु 

नुखीली या फिर धारदार कोई भी चीज धनतेरस के अवसर पर नहीं खरीदनी चाहिए। धनतेरस के दिन धारदार वस्तुएं खरीदने से हमेशा ही बचना चाहिए इस दिन चाकू, कैंची, पीन या किसी भी प्रकार की धारदार सामग्री खरीदना शुभ फलदाई नहीं होता है। इसीलिए इससे व्यक्ति को इस दिन परहेज करके चलना चाहिए। धनतेरस पर इन चीजो की खरीदारी करना काफी अशुभ फलदाई होता है। 

* प्लास्टिक का कोई भी सामान 

प्लास्टिक के सामान धनतेरस पर कुछ लोग प्लास्टिक की बनी चीजें खरीदते हैं लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं करना चाहिए। इस दिन प्लास्टिक खरीदना बरकत देने का संकेत नहीं होता इसीलिए धनतेरस पर प्लास्टिक से बनी किसी भी प्रकार की सामग्री ना खरीदे। झाड़ू खरीदते समय भी इस बात का काफी ध्यान रखें कि उसमें प्लास्टिक से कवर ना चढ़ाया गया हो। 

* चीनी मिट्टी के बर्तन 

इस दिन चीनी मिट्टी के बर्तन खरीदना भी अशुभ फलदाई माना जाता है। धनतेरस के शुभ अवसर पर शेरा में चीनी मिट्टी से बने बर्तन या गुलदस्ता आदि जैसी चीजें खरीदने से बचना चाहिए। इन चीजों में स्थायित्व नहीं रहता जिस कारण घर में बरकत में भी स्थायित्व ना होने का संकेत मिलता है, इसीलिए इस दिन ऐसी चीजें बिल्कुल भी ना खरीदें। 

* कांच के बर्तन 

धनतेरस पर कभी भूलकर भी कांच के बर्तन नहीं खरीदनी चाहिए। कुछ लोग इस अवसर पर कांच के बर्तन या दूसरी सामग्री खरीदते हैं लेकिन कांच का राहु से संबंध माना जाता है इसीलिए इस दिन कांच के सामग्री खरीदने से बचना चाहिए। कहा जाता है कि इस दिन कांच के किसी सामग्री का उपयोग भी नहीं करना चाहिए। 

* धनतेरस पर ना खरीदें स्टील

धनतेरस के अवसर पर लोग बर्तन खरीदते हैं लेकिन इस अवसर पर कभी भी स्टील से बने बर्तन नहीं खरीदना चाहिए। ऐसा करने से आपके घर में कलेश हो सकता है या फिर आपको किसी बड़ी मुसीबतो का भी सामना करना पड़ सकता है, इसीलिए इस दिन शुद्ध धातु के बर्तन की ही खरीदारी करें।

* एल्युमीनियम या लोहे से बनी वस्तु ना खरीदें

धनतेरस के अवसर पर एलुमिनियम या फिर लोहे से बनी किसी भी प्रकार की चीज नहीं खरीदनी चाहिए। इसीलिए धनतेरस पर आप लोग इस बात का ध्यान रखें क्योंकि इस दिन आप एल्यूमीनियम खरीदने से किसी संकट में पड़ सकते हैं। ज्योतिष वास्तु में एलुमिनियम को दुर्भाग्य का प्रतीक बताया गया है क्योंकि इस पर राहु का प्रभाव अधिक होता है। साथ ही लोहा शनिदेव से संबंधित होता है इसीलिए धनतेरस पर लोहा नहीं खरीदनी चाहिए।

* किसी भी प्रकार काले रंग की सामग्री ना खरीदें

धनतेरस के शुभ अवसर पर किसी भी प्रकार के काले सामग्री खरीदने से बचे। क्योंकि इस धनतेरस के शुभ अवसर पर कोई भी काले रंग की वस्तु खरीदने से घर में बरकत नहीं होती है। यह काफी अशुभ माना जाता है, इसीलिए इस दिन खरीदारी करते समय इन बातो का जरूर ध्यान रखें।

हम आशा करते हैं कि यह जानकारी आप लोगो को अच्छी लगी होगी इस पोस्ट में हमने आपको ऐसी सभी जानकारी दी है कि धनतेरस पर कौन सी सामग्री की खरीदारी करना शुभ और अशुभ फलदाई होता है। तो आप लोग धनतेरस की खरीदारी करते समय इन बातो पर काफी ध्यान दें और गलती से भी अशुभ फल देने वाले सामग्री की खरीदारी ना करके शुभ फल देने वाले वस्तु की ही खरीदारी करें।

Jhuma Ray
नमस्कार! मेरा नाम Jhuma Ray है। Writting मेरी Hobby या शौक नही, बल्कि मेरा जुनून है । नए नए विषयों पर Research करना और बेहतर से बेहतर जानकारियां निकालकर, उन्हों शब्दों से सजाना मुझे पसंद है। कृपया, आप लोग मेरे Articles को पढ़े और कोई भी सवाल या सुझाव हो तो निसंकोच मुझसे संपर्क करें। मैं अपने Readers के साथ एक खास रिश्ता बनाना चाहती हूँ। आशा है, आप लोग इसमें मेरा पूरा साथ देंगे।

Leave a Reply Cancel reply

error: Content is protected !!