Homeहिन्दीजानकारीबॉयफ्रेंड और गर्लफ्रैड के रिश्ते में जरूर रखें इन बातो का ख़ास...

बॉयफ्रेंड और गर्लफ्रैड के रिश्ते में जरूर रखें इन बातो का ख़ास ध्यान।

आजकल की युवा पीढ़ी में गर्लफ्रेंड और बॉयफ्रेंड का रिश्ता होना बहुत ही आम बात है, क्योंकि लोग जल्दबाजी में आकर रिश्ता बना तो लेते हैं लेकिन ज्यादा दिनो तक निभा नहीं पाते।लेकिन हम आपसे यही कहेंगे कि किसी भी रिश्ते को बनाना आसान होता है लेकिन उसे निभाना उतना ही मुश्किल। अगर आप किसी से संबंध रखते हैं तो बहुत सी बाते ऐसी होती है जिन पर आपको ध्यान देकर चलना चाहिए तभी आपके रिश्ते बहुत दिनो तक अच्छे से चल सकते हैं,

आज कल की दुनिया में वैसे भी किसी को सच्चा प्यार नसीब नहीं होता लेकिन अगर एक दूसरे की कदर और एक दूसरे की मन की भावना को समझ कर चले तो रिश्ते जरूर प्यार में बदल जाते हैं। ऐसे में हम आपको इसी बारे में बताने वाले हैं कि अगर आप गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड के रिश्ते में बंधते हैं तो उसे आपको किस प्रकार निभाना चाहिए ताकि आपका रिश्ता टूटे नहीं। इस पोस्ट में हम एक रिश्ते में बंधते वाले लड़का और लड़की दोनों को एक दूसरे के प्रति कैसा व्यवहार रखना चाहिए इस बारे में बतायेंगे तो चलिए जानते हैं।

* एक दूसरे का सम्मान करें

किसी भी रिश्ते में जो सबसे ज्यादा जरूरी होता है वह होता है एक दूसरे का सम्मान करना हमें बचपन से या सिखाया जाता है कि हमें अपने बड़ों का सम्मान करना चाहिए और अपनी से छोटू को भरपूर प्यार देना चाहिए ऐसे में जब हम एक नए रिश्ते में बनते हैं तो यह जरूरी नहीं कि दोनों के बीच प्यार हो प्यार के साथ एक की रिस्पेक्ट करना सम्मान करना बहुत जरूरी होता है

* एक दूसरे को समझने की कोशिश करें

कई बार ऐसा होता है कि किसी एक के किए गए फैसले से दूसरा एग्री नहीं करता है उसे उसका सामने वाला का फैसला आया सोच पसंद नहीं आता लेकिन एक किसी भी रिश्ते में बनने से बन्नी पर एक दूसरे की बातों को समझना बहुत जरूरी होता है लेकिन अगर कोई एक दूसरे के नजरिए को नहीं समझता तो अब रिश्तो में दरार आने शुरू हो जाते हैं इसीलिए हमेशा रिश्ते में सामने वाले की नजरिए को भी समझना पड़ता है तभी कोई फैसला लेना सही होता है

* हमेशा एक दूसरे को अहमियत दे

ऐसा बहुत बार देखा गया है कि कि एक रिश्ते में लोग एक दूसरे को अहमियत देना कम कर देते हैं कोई भी फैसला लेने से पहले सामने वाले से एक बार पूछना या उनकी मर्जी जानना जरूरी नहीं समझते लेकिन पर्सनल लाइफ हो या प्रोफेशनल कभी भी छोटा छोटा या बड़ा कोई सा भी फैसला लेने से पहले सामने वाले की मर्जी पूछना जरूरी होता है तब उन्हें एहसास होता है कि आप उन ही उन की कदर करते हैं क्योंकि आप एक रिश्ते में होते हैं

* एक दूसरे को कंट्रोल करने की कोशिश न करें

किसी एक रिश्ते में बनने के बाद लड़का हो या लड़की वे एक दूसरे को हर एक चीज में दखल देने लगते हैं यानी कि उन्हें कंट्रोल करना चाहते हैं जो कि बिल्कुल भी गलत है एक दूसरे की मर्जी जानना या किसी गलत काम को करने से रोकना टोकना अलग बाद लेकिन जब छोटे-छोटे छोटी-छोटी बातों को लेकर रिश्ते में एक दूसरे को रोक तो करने लगती है तो वह कंट्रोल करना कहते हैं जोकि रिश्ते में नहीं जिस कारण रिश्ते नहीं चल पाते हैं

* एक दूसरे के भावनाओ कि कदर करें

किसी भी रिश्ते में बनना तो आसान है लेकिन उसे निभाना उतना ही मुश्किल क्योंकि हर एक व्यक्ति की अलग अलग सोच होती है अलग अलग होती है अलग अलग भावनाएं और सीलिंग इमोशंस होते हैं जिसकी कदर करना बहुत जरूरी है रिश्ते में रहने पर सामने वाले की मोशंस भावनाओं की कदर करना बहुत जरूरी की कदर करना बेहद रिश्ते के लिए नियत रखता है वह जो वह कह रहे सामने वाला व्यक्ति जो कह रहा उसके पीछे उनकी क्या भावना है उसे समझना जरूरी होता है तभी रिश्ते में मधुरता आती और रिश्ता मजबूत बनता है

बॉयफ्रेंड और गर्लफ्रैड के रिश्ते में जरूर रखें इन बातो का ख़ास ध्यान।

* रिश्ते को लेकर जरूरत से ज्यादा सीरियस ना हो 

जब आप किसी रिश्ते में जरूरत से ज्यादा सीरियस हो जाते हैं तो रिश्ते बिगड़ने लगते हैं। शायद आपके गर्लफ्रेंड के छोड़कर जाने की वजह यह भी हो सकती है कि आप उन्हें लेकर कुछ ज्यादा ही परेशान रहते हैं जो उनको अच्छा नहीं लगता। इसीलिए उनकी आजादी का भी ध्यान रखें उन्हें कभी ऐसा एहसास ना होने देग देखी रिश्ते में बंधने के बाद हुआ बाकी चीजों से बाकी जिन दुनिया से अलग हो चुके हैं बल्कि बल्कि सामने वाला सामने वाले की खुशी में भी खुद की खुशी ढूंढने की कोशिश करनि चाहिए यनके चाह को अपनी चाहत समझनि चाहिए

* एक दूसरे को समय दें

जब आप किसी रिश्ते में बनते हैं तो आपको यह बात पहले से सोच लेना चाहिए कि रिश्ते जोड़ने के बाद एक दूसरे को समय देना बेहद जरूरी है इसीलिए आप कितना भी बिजी क्यों ना रहे अपनी अपने पार्टनर को थोड़ा सा समय जरूर दें क्योंकि जब रिश्ते बने पर एक दूसरे के लिए समय एक दूसरे के को समय देना मुश्किल हो जाता है तो फिर रिश्ते धीरे-धीरे कमजोर पड़ जाते हैं थोड़ा थोड़े से समय में ही सही एक दूसरे की जिंदगी में चल रहे बातों को एक दूसरे से शेयर करना बेहद बहुत करने से रिश्ते मजबूत बनते हैं

* एक दूसरे पर हमेशा विश्वास रखें

रिश्ते विश्वास पर टिके होते हैं रिश्ते में विश्वास एक रीड की हड्डी के समान होता है जब यही रीढ़ की हड्डी टूट जाती है तो रिश्ते भी टूटने लगते हैं और जब तक विश्वास जिंदा रहता है तब तक गलतफहमी और धोखे गलतफहमी धोखे और झगड़े की जगह नहीं रिश्ते में जगह नहीं मिल पाती है इसीलिए जब भी आप किसी रिश्ते में बंधते हैं तो सबसे पहले आप विश्वास करना सीखें तभी रिश्ते निभा सके निभाया जा सकता है

* एक दूसरे के विश्वास को कभी टूटने ना दें

जब एक दूसरे पर विश्वास होते हैं तो रिश्ते अपने आप जुड़ते हैं और मजबूत बनते चले जाते हैं समय के साथ साथ धीरे-धीरे रिश्ते या तो मजबूत बनते हैं या कमजोर और लेकिन या आप पर निर्भर करता है कि आप अपने रिश्ते को मजबूत बनाते हैं या उससे कमजोर या आप ही रिश्ते में बंधने के साथ आपकी एक जिम्मेदारी भी लेनी पड़ती है और वह है भरोसा विश्वास कायम रखने की जिम्मेदारी क्योंकि सामने पार्क आपका पार्टनर आपसे आप पर जो विश्वास रहता है उस विश्वास को कायम रखना उसके विश्वास पर खरा उतरना आपकी जिम्मेदारी

* एक दूसरे के उम्मीदों को पूरा करें

जब आप एक रिश्ते में बनते हैं तो सामने वाले की उम्मीद है आप से जुड़ जाती है वह आपसे यह उम्मीद बस अब उम्मीद कर लेता है जो जो भी बचाता है वह सारी उम्मीदें बाप से रखता है इसीलिए आप का यह कर्तव्य बनता है कि आप अपने पार्टनर की उम्मीदों पर खरा उतरे भी जो आपसे आपसे आपसे जो एक्सपेक्ट करते हैं आप उसे पूरा करें रिश्तो में एक दूसरे से उम्मीदें रखना आम बात है और उम्मीदों पर खरा उतरना बहुत बड़ी बात इसीलिए रिश्ते बनाने से कुछ नहीं होते उन्हें निभाना जरूरी है

* वादे को कभी टूटने ना दें

रिश्ते में पाटनर एक दूसरे से छोटी-छोटी बातों में भी वादा कर देते हैं लेकिन उनका दो पर वह हमें खरे नहीं उतर पाते उन वादों को पूरा नहीं कर पाते हैं लेकिन ऐसा होने पर आपके पार्टनर काम पर से आपके पार्टनर का भरोसा उठने लगता है इसलिए आप वादे या तो आप वादा मत करिए ही मत या फिर अगर आप अपने पार्टनर से वादा करते हैं तो उन्हें पूरा करें हमेशा पूरा पूरा करें या फिर आप उनसे वादा ही ना करें जब आप अपने पार्टनर को किए वादे को तोड़ते हैं तो आपके पार्टनर का भरोसा कमजोर होने लगता है

* एक दूसरे के प्रति ईमानदार रहे

ईमानदारी एक बहुत बड़ी चीज होती है जो हर कोई नहीं कर पाता है हर एक व्यक्ति को अपने काम के साथ रिश्तो में हर एक चीज में ईमानदारी रखना रखनी चाहिए और इस ईमानदारी पर ही विश्वास उम्मीद हर एक चीज यानी कि रिश्ते की नीव टिकी होती है और जब व्यक्ति में या ईमानदारी खत्म हो जाती है तो विश्वास वादे उम्मीदें सब छूटने लगते हैं और रिश्ते भी खोखले बन जाते हैं इसीलिए अपने अंदर के ईमानदारी को कभी खोने ना दे और रिश्ते में ईमानदार रहें

Jhuma Ray
नमस्कार! मेरा नाम Jhuma Ray है। Writting मेरी Hobby या शौक नही, बल्कि मेरा जुनून है । नए नए विषयों पर Research करना और बेहतर से बेहतर जानकारियां निकालकर, उन्हों शब्दों से सजाना मुझे पसंद है। कृपया, आप लोग मेरे Articles को पढ़े और कोई भी सवाल या सुझाव हो तो निसंकोच मुझसे संपर्क करें। मैं अपने Readers के साथ एक खास रिश्ता बनाना चाहती हूँ। आशा है, आप लोग इसमें मेरा पूरा साथ देंगे।

Leave a Reply Cancel reply

error: Content is protected !!