Homeहिन्दीजानकारी"International lefthanders day 2021" लैफ्ट हैंडर्स से जुड़ी जानकारी

“International lefthanders day 2021” लैफ्ट हैंडर्स से जुड़ी जानकारी

दुनिया में ऐसे बहुत से लोग हैं जो अपने दाएं हाथ के बजाए अपने बांए हाथ का उपयोग करते हैं। अपने ज्यादातर काम जो दाएं हाथ से किया जाता है वह सब वो अपने बाय हाथ से ही करते हैं। जिस प्रकार एक सामान्य व्यक्ति को अपने दाएं हाथ से कोई भी काम करने में ज्यादा सुविधा महसूस होती है उसी प्रकार ऐसे लोगो को अपने बाएं हाथ से सब काम करने में ज्यादा सुविधा महसूस होती है। वह अपने बाएं हाथ से ही उन कामो को सफलतापूर्वक कर पाते हैं जो हम अपने दाएं हाथ से करते हैं। 

हालांकि ऐसे लोग कम पाए जाते हैं इसीलिए हर साल दुनिया भर में 13 अगस्त के दिन इंटरनेशनल लेफ्ट हेंडर्स डे के तौर पर मनाया जाता है। इस दिन को मनाने की शुरुआत साल 1976 में डीन और कैम्पबेल द्वारा की गई थी। दरअसल इस दिन लेफ्ट होने के खासियतो को सेलिब्रेट किया जाता है। इस दिन बाएं हाथ से काम करने के फायदे और नुकसान के बारे में बात होती है और लोगो को इस बारे में जागरूक किया जाता है। खासतौर पर भारत जैसे देश में बाएं हाथ के उपयोग को आज भी कई जगहो पर गलत माना जाता है।

कुछ शोधकर्ताओ का यह मानना है कि जेनेटिक की तुलना में इसके पीछे पर्यावरणीय प्रभाव का ज्यादा प्रभाव पड़ता है। उनके अनुसार गर्भ में पर्यावरण या हार्मोन के संपर्क सही प्रभावित नहीं कर पाते हैं जिससे बच्चे का दाया या फिर बाया हाथ ज्यादा होता है।

एक रिसर्च के अनुसार पूरी दुनिया में केवल 7 से 10% लोग ही बाएं हाथ का उपयोग करने में सक्षम होते हैं। और उन्हें कई प्रकार की दिक्कतो का सामना करना पड़ता है जैसे कि ज्यादातर मशीने जैसे कंप्यूटर, माउस, कीबोर्ड जैसे चीज है जो राइट हैंड के उपयोग के मुताबिक बनाई जाती है। 

ऐसे में जो लोग लेफ्ट होते हैं उनके लिए इनका उपयोग करने में मुश्किले आती हैं। क्या आप जानते हैं कि लेफ्ट होने में कई खास बाते भी छुपी हुई है। जैसे कि लड़कियो की तुलना में ज्यादातर लड़के ही लेफ्ट होते हैं और इसके लिए टेस्टोस्टेरोन हार्मोन जिम्मेदार होता है। हालाकि कुछ एक्सपर्ट्स छोटी उम्र में दिमाग में पहुंचे हल्की चोट को भी इसका जिम्मेदार मानते हैं। 

शोध से पता चला है कि बाएं हाथ से लोगो में अल्सर और गाठिया विकसित होने का जोखिम कम हो जाता है। वह स्टॉक से भी अधिक ज्यादा बढ़ सकते हैं अमेरिकन जर्नल ऑफ साइकोलॉजी में एक पुराने लेख से यह पता चला है कि बाएं हाथ के लोग सोच में अलग और बेहतर हो सकते हैं। खासतौर पर वह रचनात्मक विचारो में राइट हेंडर्स से बेहतर होते हैं।

पहली बार साल 1991 में इस दिन को मनाने की शुरुआत हुई थी और तभी से हर साल 13 अगस्त को यह दिन मनाया जाता है। बराक ओबामा, अमिताभ बच्चन, रोनाल्ड रिगन, सचिन तेंदुलकर, इसाक न्यूटन, बिल क्लिंटन इन सब में अगर एक कॉमन बात है तो वह है इनका लैफ्टी होना। क्या आप जानते हैं कि अमेरिका के पूर्व 5 राष्ट्रपति लेफ्ट हैंडर रहे थे।

“International lefthanders day 2021” लैफ्ट हैंडर्स से जुड़ी जानकारी

इस दिन को मनाने का मकसद उन लोगो में मौजूद हीन भावना को खत्म करना था। जिन्हें लेफ्ट हैंड होने के कारण कई लोगो के सामने मजाक का सामना करना पड़ता था। ऐसे लोगो के प्रति तब कम जागरूकता थी लोगो के मन में इनके प्रति हीन भावना थी। इसीलिए उनके साथ अच्छे ढंग से पेश आने के उद्देश्य से इस दिन को मनाने की शुरुआत हुई थी। लेकिन आज इस दिन को एक ऐसा मुकाम मिल गया है जहां आज एक नहीं बल्कि कई ऐसे लोगो के बारे में दुनिया जानती है जो कि लैफ्ट हैंडर है और उन्हें दुनिया में अलग-अलग कारण से शोहरत हासिल हुई है।

लैफ्ट हैंडर्स की कुछ खास बाते

  • दाएं हाथ से काम करने वाले लोगो की तुलना में लेफ्ट हेंडर्स जल्दी परिपक्व हो जाते हैं। 
  • लेफ्ट हेंडर्स काफी तेज दिमाग वाले होते हैं।
  • लेफ्ट हेंडर्स की कल्पना शक्ति बाकी लोगो की तुलना से ज्यादा होती है। 
  • लेफ्ट हेंडर्स भले ही बाएं हाथ से कोई डिजाइन बनाए लेकिन उसका रुख हमेशा दाएं और ही होता है। 
  • लेफ्ट हैंड से काम करने वाले किसी भी प्रकार के स्ट्रोक से जल्दी उबर सकते हैं।
  • कई रिसर्च के अनुसार लेफ्ट हेंडर्स में अल्सर और अर्थराइटिस जैसी बीमारियो के होने का खतरा बहुत कम होता है। 
  • पानी के अंदर किसी भी चीज को पहचानने की क्षमता लेफ्ट हेंडर्स में सबसे ज्यादा होती है। 
  • लेफ्ट हेंडर्स स्विमिंग, बेसबॉल, टेनिस और फैंसी जैसे खेलो में उस्ताद पाए जाते हैं। 
  • लेफ्ट हेंडर्स में हकलाने और डिस्लेक्सिया की बीमारी की दर सबसे ज्यादा होती है।
  • जुड़वा बच्चों में एक बच्चा लेफ्ट हैंड होने की संभावना ज्यादा होती है।

आज आपको यह सुनने में थोड़ा अजीब लगता होगा कि एक समय था जब लेफ्ट हेंडर्स को लोग हीन दृष्टि से देखते थे। आपको थोड़ा अजीब लगेगा क्योंकि आज लेफ्ट हैंडर्स को उस नजरिए से नहीं देखा जाता है। आज वह भी हम लोगो की तरह ही सिमिलर माने जाते हैं और हम से खास भी माने जाते हैं। लेकिन मध्यकाल में अगर कोई व्यक्ति अपने बाएं हाथ से काम करता था तो उसे जादू टोना करने वाला भी करार देकर समाज से निकाल दिया जाता था। क्या आप विश्वास करेंगे कि बीसवीं सदी में अमेरिका के कई शिक्षाविदो ने लेफ्ट हैंडर्स को राइट हैंडर्स बनाने के लिए उन पर इतना दबाव डाला जाता था कि उन्होंने अपनी शिक्षा को ही नजरअंदाज करना शुरू कर दिया था। वैज्ञानिको की माने तो बच्चे का मस्तिष्क जब शुरुआती अवस्था में होता है तो उसमें हल्के से नुकसान के कारण बच्चा लैफ्ट हैंडर बन जाता है।

कई रिसर्च में यह बात साबित हुआ है कि वहां से काम करने वाले लोग ज्यादा बुद्धिमान और अपना काम करने के तरीके की आदी होते हैं। साल 2015 में न्यूरो साइंस एंड बिहेवियरल रिव्यूज के तरफ से एक स्टडी हुई। इसमें 5 बिंदुओ पर लेफ्ट हेंडर्स को रखा गया था जिसमें 16 हजार लोगो पर हुई इस स्टडी में IQ में अंतर था साथ ही लेफ्ट हैंडर्स का IQ ज्यादा देखी गई थी।

अमेरिका के 44 वे राष्ट्रपति बराक ओबामा लेफ्ट हैंडेड है। कई रिसर्च में यह बात कही गई है कि लेफ्ट हेंडर्स बहस में भी अच्छे नहीं होते। लेकिन ओबामा ने उन रिसर्च को भी गलत बना दिया है। ओबामा के अलावे 40 वें राष्ट्रपति रोनाल्ड रीगन भी लेफ्ट हैंडेड ही थे। वे अक्सर मजाक में कहते हैं कि मैं दाएं हाथ से भी लिख कर दिखा सकता हूं। हालांकि रीगन की कुछ फोटोग्राफ्स ऐस भी है जिसमें उन्हें दाएं हाथ से लिखते हुए देखा जा सकता है। रीगन के अलावा जॉर्ज बुश सीनियर और पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन भी लैफ्ट हैंडर है।

Also read- 12 Augest, “World Elephant Day” पर राष्ट्रीय धरोहर पशु हाथी से जुड़ी जानकारी

Jhuma Ray
नमस्कार! मेरा नाम Jhuma Ray है। Writting मेरी Hobby या शौक नही, बल्कि मेरा जुनून है । नए नए विषयों पर Research करना और बेहतर से बेहतर जानकारियां निकालकर, उन्हों शब्दों से सजाना मुझे पसंद है। कृपया, आप लोग मेरे Articles को पढ़े और कोई भी सवाल या सुझाव हो तो निसंकोच मुझसे संपर्क करें। मैं अपने Readers के साथ एक खास रिश्ता बनाना चाहती हूँ। आशा है, आप लोग इसमें मेरा पूरा साथ देंगे।

Leave a Reply Cancel reply

error: Content is protected !!